Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल में कोरोना संकट के बीच चंबा में लगे भूकंप के झटके, फैली दहशत

हिमाचल में कोरोना संकट के बीच चंबा में लगे भूकंप के झटके, फैली दहशत

अभी तक वैज्ञानिक भूंकपों की सही और सटीक वजहों का पता नहीं लगा सके हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अभी तक वैज्ञानिक भूंकपों की सही और सटीक वजहों का पता नहीं लगा सके हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

चंबा और कांगड़ा क्षेत्र में वर्ष 1905 में उच्च तीव्रता का भूकंप आया था. इसके अलावा, 1975 में किन्नौर जिले में भयंकर भूकंप आया था.

शिमला. हिमाचल प्रदेश के चंबा (Chamba) जिले में मंगलवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 4.0 मापी गई. भूकंप के झटके से कई लोग दहशत में घरों से बाहर निकल आए. हालांकि भूकंप (Earthquake) से किसी जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है.
जानकारी के अनुसार, भूकंप के झटके दोपहर करीब 12 बजकर 17 मिनट पर महसूस किए गए, भूकंप का केंद्र जमीन के अंदर 19 किमी की गहराई पर था. मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक डॉ. मनमोहन सिंह ने इसकी पुष्टि की है. इससे पहले भी चंबा में भूकंप आते रहे हैं.

एक माह पहले भी लगे थे झटके
गौरतलब है कि इससे पहले, मार्च महीने में अंतिम सप्ताह और अप्रैल की शुरुआत में चंबा में 100 घंटे में सात बार भूकंप आया था. हालांकि इस दौरान भी जानमाल का नुकसान नहीं हुआ था. उस दौरान भी रिक्टर स्केल 3 से चार के बीच रहा था.

चंबा में लगातार आते हैं भूकंप
गौरतलब है कि चंबा सहित पूरा प्रदेश भूकंप की दृष्टि से अतिसंवेदनशील ज़ोन 4 व 5 में शामिल है. चंबा और कांगड़ा क्षेत्र में वर्ष 1905 में उच्च तीव्रता का भूकंप आया था. इसके अलावा 1975 में किन्नौर जिले में भयंकर भूकंप आया था.

ये भी पढ़ें:-

 COVID-19: हिमाचल के बॉर्डर मैहतपुर पर हालात बेकाबू, लगी लंबी कतारें

COVID-19: मंडी के पांच दोस्तों ने जुगाड़ से बनाया कोरोना सैंपल क्लेक्शन चैम्बर

मंडी: 67 कश्मीरी मजदूर अनुमति के बाद दो निजी बसों में घर रवाना

Tags: Chamba district, Earthquake, Himachal pradesh

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर