सेब बागवानों के साथ हो रही खुली लूट, हिमाचल विधानसभा में गूंजा मुद्दा

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 21, 2019, 5:05 PM IST
सेब बागवानों के साथ हो रही खुली लूट, हिमाचल विधानसभा में गूंजा मुद्दा
सेब बागवानों से लूट का मुद्दा विधानसभा में उठा.

सीएम जयराम ठाकुर ने भी कहा कि सरकार अगले साल से टेलिस्कोपिक कार्टन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाएगी.

  • Share this:
हिमाचल में इन दिनों सेब सीजन पूर्ण यौवन पर है. सेब पेकिंग के प्रयोग होने वाला टेलिस्कोपिक कार्टन सियासी मुद्दा बन गया है. दरअसल, इस कार्टन के जरिए बागवानों के साथ खुली लूट हो रही है. चीफ व्हिप नरेंद्र बरागटा ने इस मुद्दे पर सदन में बुधवार को ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाया.

ऐसे हो रही लूट
हिमाचल की 4 हजार करोड़ की सेब से जुड़ी आर्थिकी को लूट की खुली छूट मिली है, जिसमें आढ़ती और व्यापारी सब शामिल हैं, दरअसल जिन टेलिस्कोपिक कार्टन में सेब भरा जा रहा है, उनमें 28 से 34 किलो सेब भरा जा रहा है, जबकि बागवानों से सेब 20 किलो प्रति पेटी के हिसाब से खरीदा जा रहा है. यानी अगर एक पेटी में 34 किलो सेब भी होगा तो उसे पैसे 20 किलो सेब के ही मिलेंगे. बाकी सेब की कमाई आढ़ती और व्यापारी चट कर लेंगे. नरेंद्र बरागटा ने कहा कि इस मुद्दा गंभीर है. सरकार को ऐसा कानून लाना चाहिए जिसमें केवल 20 किलो का यूनिवर्सल कार्टन ही मंजूर हो.

ये बोले बागवानी मंत्री

चीफ व्हिप की ओर से लाए गए ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर बागवानी मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने जवाब दिया और माना कि एक यूनिवर्सल कार्टन में 4 लेयर तक सेब की पैकिंग हो सकती है, लेकिन टेलिस्कोपिक कार्टन में 6 से 7 लेयर बन रही है. जो वास्तव में ही चिंता का विषय है. बागवानों को इसका नुकसान हो रहा है. सरकार जल्द ही इस विषय में अगले विधानसभा सत्र में कानून लाएगी.

सीएम ने कहा-लगेगा बैन
सीएम जयराम ठाकुर ने भी कहा कि सरकार अगले साल से टेलिस्कोपिक कार्टन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाएगी. इसके लिए बागवानों के साथ भी चर्चा की जाएगी. एक अनुमान के मुताबिक, टेलिस्कोपिक कार्टन के कारण बागवानों को करीब 1 हजार करोड़ का नुकसान उठाना पड़ रहा है. वर्तमान में प्रदेश की आर्थिक 4 हजार करोड़ से ज्यादा की है जबकि यह आंकड़ा 5 हजार करोड़ का हो सकता है.
Loading...

ये भी पढ़ें: हिमाचल विस का मॉनसून सत्र: शराब पर दूसरे दिन भी हुआ हंगामा

कौन हैं ‘सिंघम’ SP दिवाकर,जिनके नाम पर मंचा है सियासी हंगामा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 4:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...