• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • Apple Season in Himachal: हिमाचल में मंडियों में पहुंचा सेब, मिल रहे अच्छे दाम

Apple Season in Himachal: हिमाचल में मंडियों में पहुंचा सेब, मिल रहे अच्छे दाम

हिमाचल में मंडियों में पहुंचा सेब.

हिमाचल में मंडियों में पहुंचा सेब.

Apple Season in Himachal: साल 2018 में लैंसलाइड के चलते भट्टाकुफर सेब मंडी को नुकसान पहुंचा था, जिसके बाद सेब मंडी में आढ़त लगाने पर रोक लगाई थी.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में सेब सीजन शुरू हो गया है. राजधानी शिमल की मंडियों में सेब की खेप पहुंची है. जिला शिमला के निचले क्षेत्रों से सेब पेटियां मंडियों में रोजाना हजारों की संख्या में पहुंच रही है. ऐसे में बागवानों को सेब का अच्छा दाम भी मिल रहा है.निचले क्षेत्रों के बाद अब सेब सीजन के कार्य मध्यम क्षेत्रों में शुरु होने वाला है. ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि इस बार सेब फसल का उत्पादन पिछले वर्ष के मुकाबले ज्यादा होगा.

दो करोड़ पेटियों का अनुमान

प्रशासन के आंकड़ों पर गौर किया जाए तो इस बार जिला में करीब 2 करोड़ सेब पेटियों का अनुमान लगाया गया है.सेब सीजन के लिए प्रशासन पूरी तैयारियों का दावा किया जा रहा है. सभी विभागों को अलर्ट पर रखा गया है. डीसी शिमला आदित्य नेगी के मुताबिक जिला में अभी सड़कें दुरुस्त हैं. अभी किसी सड़क के बाधित होने की सूचना नहीं है. फिर भी पीडब्ल्यूडी विभाग को अलर्ट पर रख गया है कि यदि बरसात के चलते किसी सड़क में भूस्खलन आता है या कोई सड़क क्षतिग्रस्त होती है तो उसे तुरंत आम जनता के लिए बहाल किया जाए.

मंडी में आढ़त की इजाजत

उन्होंने कहा कि उस बार दोबारा भट्टाकुफर फल मंडी में आढ़त लगाने की अनुमति दी गई है.जिसके चलते सेब बागवान वहां पर भी अपना सेब बेच सकते हैं. कोरोना नियमों की पालना करने के लिए भट्टाकुफर फल मंडी में सेब बेचने की दी है. उन्होंने बताया कि साल 2018 में लैंसलाइड के चलते भट्टाकुफर सेब मंडी को नुकसान पहुंचा था, जिसके बाद सेब मंडी में आढ़त लगाने पर रोक लगाई थी. लेकिन इस बार कोरोना वायरस के चलते एपीएमसी ने सेब मंडी लगाने की अनुमति मांगी थी जिसके चलते उन्हें अनुमति दी गई है.लेकिन उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि एक तो लैंडस्लाइड वाली जगह से सेब मंडी को दूर लगाया जाए और साथ ही सेब मंडी के साथ पानी की निकासी का उचित प्रावधान किया जाएगा, ताकि बरसात के मौसम में किसी तरह की आपदा न हो.

पुलिस को भी निर्देश

उन्होंने कहा कि जहां तक ट्रैफिक समस्या की बात है तो पुलिस विभाग को इस समस्या से निजात पाने के लिए उचित कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. पुलिस के जवान जगह जगह पर तैनात किए हैं और इसके अलावा जिला के 11 बैरियर के साथ पांच स्थानों पर कंट्रोल रुम स्थापित किए गए हैं.उन्होंने बताया कि जिला में सेब सीजन अब चरम पर है ऐसे में समय समय पर सभी विभागों से फीडबैक लिया जा रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज