अपना शहर चुनें

States

विस चुनाव में शराब के उपयोग पर कांग्रेस-बीजेपी में जुबानी जंग

भाजपा विधायक सुरेश भारद्वाज और कांग्रेस मंत्री जीएस बाली.
भाजपा विधायक सुरेश भारद्वाज और कांग्रेस मंत्री जीएस बाली.

हिमाचल प्रदेश में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में ‘शराब के जमकर उपयोग’ होने की बात पर सियासी उबाल मच गया है. परिवहन मंत्री जीएस बाली ने चुनाव में खूब शराब उपयोग होने का आरोप लगाया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2017, 1:45 PM IST
  • Share this:
हिमाचल प्रदेश में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में ‘शराब के जमकर उपयोग’ होने की बात पर सियासी उबाल मच गया है. परिवहन मंत्री जीएस बाली ने चुनाव में खूब शराब उपयोग होने का आरोप लगाया था.

इस पर अब शिमला के भाजपा विधायक सुरेश भारद्वाज ने पलटवार किया है. भारद्वाज ने बाली पर तंज कसते हुए कहा कि जो कुछ उन्होंने चुनाव में किया है, वह सारी जनता को बता रहे हैं.

शिमला में कौन शराब दे सकता है, यह सब जानते हैं. सुरेश भारद्वाज ने बाली से इस सुझाव का जरूर समर्थन किया, जिसमें उन्होंने चुनाव से 15-20 दिन पहले शराब पर पाबंदी लगाने की मांग की थी.



ये बोले थे परिवहन मंत्री बाली
बेबाक बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा था कि इस बार चुनाव में जमकर शराब का उपयोग हुआ है. बाली ने आरोप लगाया कि प्रदेश में शराब के जरिए चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश हुई है. बाली ने यह आरोप विपक्ष पर नहीं लगाए, बल्कि सभी को लेकर बोला.

बाली के मुताबिक चुनाव में शराब का बोलबाला देखने को मिला है, लेकिन चुनाव आयोग के पास शराब पर अंकुश लगाने के लिए स्टाफ कम था. जीएस बाली ने मांग की है कि भविष्य में शराब की दुकानें मतदान से 15 दिन पहले ही बंद कर दी जानी चाहिए.

बाली के मुताबिक चुनाव के दिन शराब बंद होने से कोई फायदा नहीं हुआ. क्योंकि शराब पहले की गांव तक पहुंचा दी गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज