फिर भड़की धवाला की ज्वाला, कहा-हमारे तालमेल में घी डालने का काम बंद करें

ज्वालामुखी से बीजेपी विधायक और राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला ने संगठन नेताओं को साफ शब्दों में यह नसीहत दे डाली है कि संगठन के लोग संगठन का काम करें और सरकार के लोग सरकार में विकास का काम.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 4, 2019, 7:41 AM IST
फिर भड़की धवाला की ज्वाला, कहा-हमारे तालमेल में घी डालने का काम बंद करें
रमेश धवाला ने यह नसीहत बिना नाम लिए बीजेपी प्रदेश संगठन मंत्री पवण राणा को दी है.
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: August 4, 2019, 7:41 AM IST
ज्वालामुखी से बीजेपी विधायक और राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला एक बार फिर संगठन में अपने विरोधियों पर बरस पड़े. इस बार उन्होंने संगठन नेताओं को साफ शब्दों में यह नसीहत दे डाली है कि संगठन के लोग संगठन का काम करें और सरकार के लोग सरकार में विकास का काम. रमेश धवाला ने यह नसीहत बिना नाम लिए बीजेपी प्रदेश संगठन मंत्री पवण राणा को दी है. दरअसल इन दिनों ज्वालामुखी में वर्चस्व की लड़ाई चल रही है. यह लड़ाई रमेश धवाला बनाम बीजेपी प्रदेश संगठन मंत्री पवन राणा के बीच चल रही है. बीते शनिवार को रमेश धवाला के बरसने का दिन था, सो वे कृषि विभाग में चल रही जाइका परियोजना के तहत बनी सड़कों को लेकर भी खूब बरसे. उन्होंने सड़कों की गुणवत्ता पर सवाल उठाए हैं. सड़कों के निर्माण में जरूरत से ज्यादा धन व्यय करने की बात भी सामने आई है. उन्होंने कहा कि इस बारे में विधानसभा प्राक्कलन समिति की जांच बिठा दी है. प्राक्कलन समिति के सभापति रमेश धवाला के की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह बात सामने आई है.

'राजनीति में तालमेल होना सबसे जरूरी है'

Ramesh dhawala-रमेश धवाला
रमेश धवाला ने कहा कि राजनीति में तालमेल होना सबसे जरूरी है. हमारे तालमेल में कुछ लोग आग में घी डालने का काम कर रहे हैं.


रमेश धवाला ने कहा कि राजनीति में तालमेल होना सबसे जरूरी है. हमारे तालमेल में कुछ लोग आग में घी डालने का काम कर रहे हैं. विरोधियों को ऐसा न करने की सलाह देते हुए धवाला बोले कि अगर आग प्रबल हो गई तो उसे कंट्रोल करना मुश्किल होगा. सभी लोग संगठन के लोग हैं. किसी एक ने संगठन की ठेकेदारी नहीं ली है. ऐसे में विभाजन का काम बंद किया जाना चाहिए. गौरतलब है कि रमेश धवाला की बीते दिनों ज्वालामुखी से आए एक प्रतिनिधिमंडल ने सीएम जयराम ठाकुर शिकायत की थी. इसे बाद से ही यह सारा मामला उछला है.

धवाला ने कहा, सड़कों के निर्माण गुणवता का नहीं रखा जा रहा ध्यान

विधानसभा प्राक्कलन समिति के सभापति रमेश धवाला ने कहा कि सड़कों की गुणवता की जांच होनी चाहिए. इसमें जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी. प्रदेश में कई स्थानों पर अन्यों सड़कों की गुणवत्ता पर सवाल उठे हैं. विधानसभा में प्राक्कलन समिति की बैठक में विधायक जगत सिंह नेगी, विनोद कुमार, राजेंद्र राणा, नरेंद्र ठाकुर, आशीष बुटेल, सुरेंद्र शौरी, प्रकाश राणा के अलावा सतपाल सिंह रायजादा भी मौजूद रहे.

बैठक के दौरान की गई समीक्षा के दौरान यह बात पता चली है कि हाइका के तहत निर्मित सड़कों में काफी व्यय हुआ है. समिति इसी मामले पर प्रधान सचिव कृषि को भी मौखिक साक्ष्य के लिए बुलाया था जिसके बाद समिति ने जांच के लिए तीन विधायकों की एक कमेटी बनाई है. जो इस परियोजना के तहत बनी सड़कों का कार्यस्थल पर जाकर निरीक्षण करने के बाद अपनी रिपोर्ट समिति को देगी.
Loading...

यह भी पढ़ें: सोलन में 43.37 ग्राम चिट्टे के साथ तीन युवक गिरफ्तार

देहरा का बड़ा गांव काटेगा 6 महीने काले पानी की सज़ा
First published: August 4, 2019, 7:38 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...