लाइव टीवी

बर्फबारी पर Viral बयान पर BJP नेता बोले-जब विक्रमादित्य रोटी को तोती बोलते थे, तब मैं स्टूडेंट पॉलिटिक्स में था

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 14, 2020, 5:26 PM IST
बर्फबारी पर Viral बयान पर BJP नेता बोले-जब विक्रमादित्य रोटी को तोती बोलते थे, तब मैं स्टूडेंट पॉलिटिक्स में था
कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह और भाजपा नेता सूरत नेगी.

सूरत नेगी ने कहा कि वह 30 वर्षों से राजनीति में है. जब विक्रमादित्य सिंह रोटी को तोती कहते थे तब कॉलेज में छात्र राजनीति में प्रवेश कर चुके थे. वीडियो का अलग अर्थ निकालने पर उन्होंने कहा विक्रमादित्य सिंह को हिंदी भाषा सीखनी चाहिए.

  • Share this:
शिमला. दो दिन से सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल (Viral Video) हो रहा है, जिसमें हिमाचल जनजातीय मोर्चा के अध्यक्ष एवं वन विकास निगम के उपाध्यक्ष सूरत नेगी प्रदेश में हुई अच्छी बर्फबारी (Snowfall) के लिए बीजेपी सरकार और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) को श्रेय दे रहे हैं. इस पूरे मामले पर कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditiya Singh) ने सोशल मीडिया में वीडियो अपलोड कर तंज कसते हुए सूरत नेगी को ‘अधंवक्त’ और सीएम की चाटुकारिता करने वाला करार दिया.

विक्रमादित्य पर बोला हमला
इसके बाद सूबे का सियासी पारा चढ़ गया और सूरत नेगी शिमला में प्रेस कांफ्रेस पर विक्रमादित्य सिंह पर तीखा हमला बोला. नेगी ने कहा कि पिछले 2 दिन से कांग्रेसी नेता विक्रमादित्य सिंह द्वारा एक वीडियो वायरल किया गया है जिस को तोड़ मरोड़ के पेश किया है. वह वीडियो वास्तव में 7 मिनट का बना था, पर उसे 1 मिनट 35 सेकंड का काटकर सोशल मीडिया पर चलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि विधायक विक्रमादित्य सिंह ने जो उस वीडियो को लेकर टिप्पणी की है, वह आपत्तिजनक है और विधायक को मूल विषय बदलने का कोई अधिकार नहीं है.

बर्फबारी को लेकर राजनीति नहीं

नेगी ने कहा कि वीडियो सोशल मीडिया पर डालने का उद्देश्य बर्फबारी के फायदे एवं महत्व है. बर्फबारी को लेकर जिला किन्नौर के कांग्रेसी नेता इसको लेकर अनाप-शनाप बयान दे रहे थे. उन्होंने कहा है कि बर्फबारी को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए, बर्फ से कई लाभ होते हैं जैसे कि पीने के पानी हॉर्टिकल्चर और एग्रीकल्चर में भी बड़े लाभ मिलते हैं. उन्होंने कहा कि प्रशासन किन्नौर में धरातल पर कार्य कर रहा है और ऐसे कोई भी मार्ग नहीं है, जहां सरकारी मशीनरी सकारात्मक कार्य नहीं कर रही है.

विक्रमादित्य सिंह ने तोड़ मरोड़ किया वीडियो पेश किया
उन्होंने कहा कि विक्रमादित्य सिंह ने जो वीडियो वायरल किया है उसको तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया हैय अपनी सूरत के हिसाब से उसको सोशल मीडिया पर डाला गया है. उन्होंने कहा की बर्फबारी भगवान की कृपा है और कहीं भी वीडियो में ऐसा नहीं कहा गया कि यह जयराम सरकार की कृपा है.हिंदी सीखें विक्रमादित्य
सूरत नेगी ने कहा कि वह 30 वर्षों से राजनीति में है. जब विक्रमादित्य सिंह रोटी को तोती कहते थे तब कॉलेज में छात्र राजनीति में प्रवेश कर चुके थे. वीडियो का अलग अर्थ निकालने पर उन्होंने कहा विक्रमादित्य सिंह को हिंदी भाषा सीखनी चाहिए. शायद अंग्रेजी माध्यम के स्कूल में पढ़े होने की वजह से उन्हें हिंदी समझ नहीं आती है, इसलिए वीडियो का मूल भी समझ नहीं आया. नेगी ने उन्हें अंधभक्त और चाटुकारिता करने वाला कहने पर आपत्ति भी जताई.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में मकर संक्रांति पर बनी 1995 किलो खिचड़ी, गिनीज बुक में रिकॉर्ड दर्ज

हिमाचल में 15 साल के नाबालिग ने 5 वर्षीय मासूम से किया दुष्कर्म

OMG! जाको राखे साईयां…दो बसों के बीच फंस गया बाइक सवार, यूं बची जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 4:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर