Home /News /himachal-pradesh /

Himachal bypoll Results: CM जयराम ने मानी हार, बोले- कुछ लोगों ने BJP में रहकर पार्टी का काम नहीं किया

Himachal bypoll Results: CM जयराम ने मानी हार, बोले- कुछ लोगों ने BJP में रहकर पार्टी का काम नहीं किया

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उपचुनाव में हार मानी है.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उपचुनाव में हार मानी है.

Himachal by polls results: यदि पिछले तीन लोकसभा चुनाव को आधार माना जाए तो मंडी में औसत मतदान 64 फीसदी के करीब रहता है. साल 2009 के लोकसभा चुनाव में 64.11 फीसद मतदान हुआ और वीरभद्र सिंह मंडी से जीते थे. 2014 में यहां पर 63.15 तथा 2019 के लोकसभा चुनाव में 66.19 फीसद मतदान हुआ और दोनों बार भाजपा के राम स्वरूप शर्मा विजयी रहे थे. प्रतिभा सिंह यहां से 2004 में जीती और संसद पहुंची थी.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. हिमाचल प्रदेश में भाजपा (Bjp) की करारी शिकस्त पर सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने प्रतिक्रिया दी है. सीएम की तरफ से पहला बयान आया है और उन्होंने उपचुनाव में 4-0 से हार मानी है. सीएम ने शिमला में मीडिया से बातचीत में कहा कि हम जनादेश को स्वीकार करते हैं और जो कमियां रहीं, उन्हें 2022 से पहले दूर करने प्रयास करने होंगे.

पार्टी में ही कुछ लोगों ने भीतर रहकर भी पार्टी का काम नहीं किया है, उनकी सूची बनाकर पार्टी हाईकमान को भेजेंगे. साथ ही सीएम ने कहा कि जो पार्टी से बाहर किये हैं, उन्हें पार्टी वापस नहीं लेगी. उन्होंने कांग्रेस के विजेता प्रत्याशियों को बधाई दी.

वहीं, जीत हासिल करने के बाद कांग्रेस प्रत्‍याशी रोहित ठाकुर ने कहा कि यह जुब्बल-कोटखाई की जनता के संघर्ष और परिश्रम की जीत. हमारी इस जीत ने भाजपा और जय राम सरकार को स्पष्ट संदेश दे किया है कि 2022 में हिमाचल में कांग्रेस की सरकार बनेगी. बता दें कि कांग्रेस के रोहित ठाकुर ने तीसरी बार यहां से जीत दर्ज की है. वह इससे पहले 2003 और 2012 में कोटखाई से विधायक रहे हैं.

बता दें कि इन चार सीटों में से दो भाजपा के पास और दो कांग्रेस के पास थी. लेकिन अब चारों सीटें कांग्रेस की झोली में चली गई हैं.

Tags: Himachal election, Himachal Government, Himachal Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर