बड़ी खबरः अब हिमाचल में भी टूटा इस साल का कोरोना संक्रमण का रिकॉर्ड, एक दिन में 941 मामले

हिमाचल में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. इसके चलते प्रशासन भी अब सख्त कदम उठाने जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

हिमाचल में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. इसके चलते प्रशासन भी अब सख्त कदम उठाने जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

Corona संक्रमण के सबसे अधिक मामले सोलन में सामने आए हैं. वहीं पिछले 24 घंटों में 12 लोगों ने इस महामारी के चलते दम तोड़ दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 10, 2021, 9:27 PM IST
  • Share this:
शिमला. कोरोना का संक्रमण अब हिमाचल में भी फिर एक बार अपना असर दिखाने लगा है. शनिवार को कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने इस साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया. प्रदेश में शनिवार को 941 नए कोरोना संक्रमित मामले सामने आए. इनमें सबसे अधिक मामले सोलन में 195 रहे.

वहीं कांगड़ा में 144, मंडी में 134, शिमला 97, हमीरपुर में 97, ऊना में 85, बिलासपुर में 82, सिरमौर में 59 और कुल्लू में 31 संक्रमित मामले सामने आए. वहीं कोरोना संक्रमण के चलते 12 लोगों ने पिछेले 24 घंटे में दम तोड़ दिया है.

दिनों दिन बढ़ता जा रहा ग्राफ

कोरोना के मामलों का ग्राफ हिमाचल प्रदेश में दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है. अब तक प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या कुल 69114 हो गई है, वहीं एक्टिव मामले बढ़कर 5223 हो गए हैं. अब तक 1102 लोग कोरोना संक्रमण के चलते दम तोड़ चुके हैं. वहीं 62671 लोग कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं.


हिमाचल प्रदेश में कोरोना की रफ्तार का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि तीन दिन में सूबे में करीब दो हजार से ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं. वहीं इससे पहले शु्क्रवार को भी सात लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो गई थी. हमीरपुर में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भोटा की महिला डॉक्टर वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद शुक्रवार को पॉजिटिव निकली है. बैजनाथ के कुंसल गांव की 82 वर्षीय बुजुर्ग, ऊना के जवार गांव के 80 वर्षीय बुजुर्ग व शाहपुर के बरनाला गांव के 75 वर्षीय बुजुर्ग ने टांडा अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ा है.

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते लाहौल-स्पीति जिला प्रशासन ने घाटी में प्रवेश करने वाले बाहरी राज्यों के कामगारों के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी है. कामगारों की 72 घंटे के भीतर की समयावधि की कोविड की आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट ही नेगेटिव होनी चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज