हिमाचल के कोटखाई रेप-मर्डर केस में दोषी को उम्रकैद, ताउम्र जेल में रहेगा नीलू

कोर्ट रूम के बाहर पुलिस के साथ दोषी नीलू.

Shimla Gudia Rape and Murder Case: छह जुलाई 2017 का यह मामला है. जंगल में गुड़िया की लाश मिली थी. सीबीआई को जांच के लिए यह मामला सौंपा गया था. बाद में सीबीआई ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया था, जिसे कोर्ट ने अब सजा सुनाई है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में शिमला जिले के कोटखाई में गुड़िया रेप एंड मर्डर केस (Gudia Rape and Murder case) में आखिरकार फैसला आ गया है. चार साल बाद न्याय का इंतजार खत्म हुआ है और कोर्ट ने दोषी नीलू चरानी को उम्र कैद की सजा सुनाई है. सेशन जज राजीव भारद्वाज की कोर्ट ने दोपहर दो बजे मामले में अपना फैसला सुनाया है. फैसले के दौरान दोषी नीलू भी कोर्ट में मौजूद रहा है. ताउम्र दोषी नीलू जेल में रहेगा और कोर्ट ने उस पर 10 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है.

जानकारी के अनुसार, गुरुवार को मामले में सुनवाई हुई. इससे पहले, 15 जून को मामले में दोषी की सजा पर बहस पूरी हुई थी और कोर्ट ने शुक्रवार को फैसला सुनाने के लिए तारीख तय की थी. दोपहर 1.58 मिनट पर दोषी को कोर्ट रूम में लाया गया और जज ने दो मिनट बाद नीलू को दोषी करार दिया.

शिमला से मुंबई तक प्रदर्शन

मामले के सामने आने के बाद पूरे प्रदेश में जगह-जगह प्रदर्शन हुए थे. शिमला, दिल्ली से लेकर मुंबई तक लोगों ने गुड़िया के लिए इंसाफ की मांग की थी. क्योंकि घटना हिमाचल विधानसभा चुनाव से चंद माह पहले हुई थी, इसलिए मामला ज्यादा भड़का था. भाजपा ने सरकार के खिलाफ इस मुद्दे को जमकर भुनाया था.  जगह-जगह रोष प्रदर्शन किए गए थे और थाने तक को लोगों ने फूंक डाला था.

मामले की टाइमलाइन

4 जुलाई 2017 को शिमला जिले के कोटखाई के महासू स्कूल की दसवीं की छात्रा लापता हुई. 5 जुलाई को परिजनों ने छात्रा की तलाश की.
6 जुलाई को 16 साल की गुड़िया (काल्पनिक नाम) की लाश नग्न अवस्था में हलाईला के जंगल में मिली, पुलिस ने की जांच शुरू की.
7 जुलाई को पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि.
10 जुलाई को सरकार ने आईजी जहूर जैदी के नेतृत्व में एसआइटी का गठन किया.
11 जुलाई को चार युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई.
13 जुलाई को पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर 55 घंटे के भीतर मामला सुलझाने का दावा किया, 5 आरोपी गिरफ्तार किए गए.
14 जुलाई को जनता भड़की, तत्तकालीन वीरभद्र सरकार ने केंद्र से सीबीआई जांच की सिफारिश की.
18 जुलाई को आधी रात को पुलिस हिरासत में एक कथित आरोपी सूरज की मौत.
19 जुलाई को कोटखाई थाना फूंका गया, केंद्र ने सीबीआई जांच की सिफारिश पर गौर नहीं किया तो राज्य सरकार ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया. हाईकोर्ट ने सीबीआई जांच के आदेश दिए.
22 जुलाई को सीबीआई ने दिल्ली में दो अलग-अलग मामले दर्ज किए, जांच शुरू की.
29 अगस्त को सीबीआई ने आइजी समेत आठ पुलिसकर्मी गिरफ्तार किए.
16 नवंबर को शिमला के पूर्व एसपी डीडब्ल्यू नेगी गिरफ्तार.
25 नवंबर को सीबीआई ने सूरज कस्टोडियल डेथ मामले पर एसआइटी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की.
13 अप्रैल 2018 को सीबीआई ने कोटखाई से आरोपी नीलू को गिरफ्तार किया.
25 अप्रैल 2018 को-सीबीआई ने हाईकोर्ट में फाइनल स्टेटस रिपोर्ट पेश की.
29 मई को सीबीआई ने नीलू के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की.
28 अप्रैल 2021 को आरोपी को दोषी करार दिया गया.
अब 18 जून 2021 को कोर्ट ने दोषी को उम्रकैद की सजा सुनाई है.

जुलाई 2017 का मामला
बता दें कि शिमला जिले के कोटखाई के महासू स्कूल की दसवीं की छात्रा 4 जुलाई 2017 को स्कूल से आने के बाद अचानक लापता हो गई थी. दो दिन बाद 6 जुलाई को उसकी लाश शव दांदी के जंगल में नग्न अवस्था में मिली थी. फॉरेंसिक रिपोर्ट में छात्रा के साथ रेप के बाद हत्या की बात सामने आई थी. शुरूआत में शिमला पुलिस ने इसकी जांच की थी. गैंगरेप की धाराओं में मामला दर्ज किया था और पांच आरोपी भी गिरफ्तार किए थे. एसआईटी जांच से जनता संतुष्ट नहीं थी और सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी. ये पांचों आरोपी बाद में बेल पर छोड़ दिए गए थे और सीबीआई की ओर से एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है.

एक संदिग्ध आरोपी की मौत
18 जुलाई 2017 को कोटखाई थाने में एक आरोपी की संदिग्ध मौत के बाद जनाक्रोश भड़का और कई स्थानों पर उग्र प्रदर्शन हुए. कोटखाई थाना जला दिया गया था. केंद्र की ओर से सीबीआई जांच को लेकर स्थिती स्पष्ट नहीं हो पाई. इस बीच प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिती बिगड़ते देख सरकार सीबीआई जांच को लेक हाई कोर्ट गई और हाई कोर्ट ने सीबीआई को जांच करने के आदेश जारी किए थे. सीबीआई ने इस मामले में 13 अप्रैल 2018 को एक नीलू नामक एक चिरानी को गिरफ्तार किया था और उसके खिलाफ जुलाई 2018 में कोर्ट में चालान पेश किया था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.