लाइव टीवी

1879 में जन्मे पूर्वजों का बर्थ सर्टिफिकेट लेने शिमला MC के दफ्तर पहुंचा ब्रिटिश दंपति

News18 Himachal Pradesh
Updated: November 9, 2019, 2:18 PM IST
1879 में जन्मे पूर्वजों का बर्थ सर्टिफिकेट लेने शिमला MC के दफ्तर पहुंचा ब्रिटिश दंपति
निगम के पास साल 1870 से लेकर अब तक का जन्म-मृत्यु का रिकॉर्ड मौजूद है.

नगर निगम (Shimla Municipal Corporation) की स्वास्थ्य शाखा के पास करीब 150 साल पुराना जन्म-मृत्यु (Birth and Death) का रिकॉर्ड मौजूद है. साल 1870 के बाद शिमला (Shimla) में पैदा हुए ज्यादातर लोगों का रिकॉर्ड नगर निगम के पास है.

  • Share this:
शिमला. 140 पहले जन्मे अपने पूर्वजों (Ancestor) का बर्थ सर्टिफिकेट (Birth Certificate) लेने के लिए एक विदेशी दंपति शिमला (Shimla) पहुंचा. गुरुवार को यह दंपति शिमला पहुंचा और ब्रिटिश रूल के दौरान शिमला में पैदा (Birth) हुए अपने पूर्वजों का जन्म प्रमाण पत्र लिया. दंपति इंग्लैंड (England Couple) से यहां पहुंचा था. बता दें कि इससे पहले, इंग्लैंड के कई लोग नगर निगम शिमला (Shimla Municiple Corporation) के दफ्तर में पहुंचे हैं. क्योंकि निगम के पास साल 1870 से लेकर अब तक का जन्म-मृत्यु का रिकॉर्ड मौजूद है.

गाइड के साथ पहुंचा था दंपती
जानकारी के अनुसार, गुरुवार को यह दंपती नगर निगम शिमला के दफ्तर पहुंचा. टूरिस्ट गाइड के साथ दंपती ने संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज के कार्यालय पहुंचे और बताया कि उनके पूर्वज शिमला में वर्ष 1879 में पैदा हुए थे. उन्हें उनका जन्म का प्रमाण पत्र चाहिए. इस पर संयुक्त आयुक्त ने नाम और वर्ष के अनुसार स्वास्थ्य शाखा के कर्मचारियों को रिकॉर्ड चेक करने के लिए कहा. न्यूज18 से बीतचीत में संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज ने बताया कि कर्मचारियों ने जब इसका रिकॉर्ड खंगाला तो बताया कि रिकॉर्ड में तारीख नहीं लिखी है, सिर्फ बर्थ ईयर ही लिखा गया है. इस पर दंपती ने रिकॉर्ड का मोबाइल से फोटो खींचा और प्रमाण पत्र लिया.

निगम के पास है 150 साल का रिकॉर्ड

नगर निगम की स्वास्थ्य शाखा के पास करीब 150 साल पुराना जन्म-मृत्यु का रिकॉर्ड मौजूद है. साल 1870 के बाद शिमला में पैदा हुए ज्यादातर लोगों का रिकॉर्ड नगर निगम के पास है. इसमें 1870 से 1947 तक पैदा हुआ ब्रिटिश नागरिक के जन्म होने का भी रिकॉर्ड शामिल है.

यह बोले निगम संयुक्त आयुक्त
संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज ने बताया कि इससे पहले, भी देश-विदेश के कई लोग निगम से अपने पूर्वजों का रिकॉर्ड लेते रहे हैं. पंद्रह मिनट में दपंति को डाटा दे दिया गया.
Loading...

ये भी पढ़ें: RTI में खुलासा: IPH विभाग ने सराज में कम तो धर्मपुर के लिए खरीदी ज्यादा पाइपें

फर्जी कॉल सेंटर चलाने वाला गिरोह पकड़ा, सरगना को 8 भाषाओं का ज्ञान

इन्वेस्टर्स मीट: साल 1997 में ज्वालामुखी में 7 दिन के लिए रुके थे पीएम मोदी

ग्लोबल इन्वेस्टर मीट:सीएम ने कहा-93 हजार करोड़ रुपये की इन्वेस्टमेंट की उम्मीद

हिमाचल: शिलाई में 400 मीटर खाई में गिरी कार, एक की मौत, दूसरा गंभीर

युवती को जबरन KISS किया, साथी युवक को पीटा, तीन आरोपी गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 2:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...