जयराम सरकार निजी बस संचालकों के आगे नतमस्तक, 25% बस किराया बढ़ाने को मंजूरी
Shimla News in Hindi

जयराम सरकार निजी बस संचालकों के आगे नतमस्तक, 25% बस किराया बढ़ाने को मंजूरी
हिमाचल में बसों के किराये को बढ़ाने को सरकार ने मंजूरी दी है. (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना संकट के बीच हिमाचल की भाजपा सरकार ने आम जनता पर खूब बोझ डाला है. इससे पहले, बिजली दरों में वृद्धि की गई थी. बिजली के स्लैब में बदलाव के चलते बिलों में इजाफा किया था. ऐसे में आम जनता पर सरकार लगातार आर्थिक बोझ डाल रही है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में आखिरकार बस किराये में इजाफा होगा. सरकार एक तरह से निजी बस संचालकों के दबाव के आगे नतमस्तक हो गई है. हालांकि, सरकार ने 25 फीसदी किराया बढ़ाने का फैसला किया है. हिमाचल कैबिनेट ने शुक्रवार को बसों का किराया 25 फीसदी तक बढ़ाने को मंजूरी दी है.

कोरोना काल (Corona Times) के बीच प्रदेश की जनता पहले से ही आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रही है. ऐसे में बसों का इतना ज्यादा किराया बढ़ाने से लोगों पर और बोझ पड़ेगा.इससे पहले भी किराया (Fare) बढ़ाने की खबरें आई थी, लेकिन सरकार ने इन खबरों का खंडन किया था.

अब सौ फीसदी सवारियां बिठाने को मंजूरी
दरअसल, कोरोना काल के दौरान एक जून से हिमाचल में बसों की सेवाएं शुरु हुई थी. हालांकि, बीते एक माह से प्राइवेट बस ऑपरेटर्स कुछ एक स्थानों पर ही बसें चला रहे थे और किराया बढ़ाने की मांग कर रहे थे. निजी बस ऑपरेटर बसों का किराया 50 फीसदी बढ़ाने की मांग कर रहे थे, हालांकि, तब बसों में 60 फीसदी सवारियां ही बिठाने की इजाजत थी. अब प्रदेश सरकार ने बसों में 100 फीसदी सवारियां बिठाने को मंजूरी है.
जल्द जारी होंगे आदेश


बावजूद निजी बस ऑपरेटरों की मांग पर प्रदेश सरकार ने 25 फीसदी बसों का किराया बढ़ाने को मंजूरी दे दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि मंत्रिमंडल की बैठक में किराया बढ़ाने को मंजूरी दी गई है. जल्द ही इसकी अधिसूचना जारी होगी. उल्लेखनीय है कि परिवहन निगम की प्रदेश में 3300 बसें सड़कों पर दौड़ रही हैं. इसके अलावा 3100 निजी बसें हैं. खर्च ज्यादा होने के कारण कई निजी ऑपरेटर बसें नहीं चला रहे हैं.

आम जनता पर सरकार ने बढ़ाया बोझ
कोरोना संकट के बीच हिमाचल की भाजपा सरकार ने आम जनता पर खूब बोझ डाला है. इससे पहले, बिजली दरों में वृद्धि की गई थी. बिजली के स्लैब में बदलाव के चलते बिलों में इजाफा किया था. ऐसे में आम जनता पर सरकार लगातार आर्थिक बोझ डाल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading