Home /News /himachal-pradesh /

उपचुनाव: वीरभद्र सिंह जिंदा होते तो कन्हैया को देवभूमि में पांव नहीं रखने देते: हिमाचल ‌BJP

उपचुनाव: वीरभद्र सिंह जिंदा होते तो कन्हैया को देवभूमि में पांव नहीं रखने देते: हिमाचल ‌BJP

शिमला में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप और अन्य नेता.

शिमला में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप और अन्य नेता.

By-elections in Himachal: शिमला में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि बहुत शर्म की बात है कि कुछ दिनों पहले कांग्रेस पार्टी ने उस शख्स को अपनी पार्टी में शामिल किया जो देश के ‘टुकड़े टुकड़े' करने वालों का समथर्न करता है.

अधिक पढ़ें ...

शिमला. हिमाचल प्रदेश में उप चुनावों में सियासत पूरी तरह से गर्मायी हुई है. मंडी लोकसभा सीट के कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह के कारगिल युद्ध पर दिए वक्तव्य को भाजपा भुनाने में जुटी हुई है. भाजपा ने फिर कहा कि उन्हें इस पर माफी मांगनी चाहिए. हालांकि, प्रतिभा सिंह ने अपने बयान पर माफी मांग ली है. भाजपा ने दिवंगत पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह को देशभक्त बताया है.

शिमला में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि बहुत शर्म की बात है कि कुछ दिनों पहले कांग्रेस पार्टी ने उस शख्स को अपनी पार्टी में शामिल किया जो देश के ‘टुकड़े टुकड़े’ करने वालों का समथर्न करता है. कांग्रेस में ऐसे लोग शामिल है, जो अफजल गुरु जैसे आतंकी की बरसी मनाते हैं और देश के खिलाफ विरोधी नारे लगाते हैं. शायद देश के विरोधियों को शह देना कांग्रेस पार्टी की आदत बन गई है.

भाजपा को अपने नेताओँ पर भरोसा

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की स्टार प्रचारक लिस्ट से स्थानीय नेता गायब है, पर भाजपा को अपने स्तर प्रचारकों पर पूरा भरोसा है. उन्होंने कहा जब भारतीय जनता पार्टी ने एक फौजी को सम्मान देकर मंडी लोकसभा सीट से उतारा है तो उस फौजी के खिलाफ प्रचार के कि लिए कांग्रेस उसी कन्हैया कुमार को ले आई जो फौज और फौजियों को बलात्कारी कहता है. जो ‘हर घर से अफजल निकलेगा’ जैसे नारे लगाने वालों को शह देता है.’ उस स्टार प्रचार के कदम हिमाचल पर पड़े और कांग्रेस के प्रत्याशी भी रंग बदलने लगे. मंडी में कन्हैया कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और अगले ही दिन प्रतिभा सिंह ने बयान दिया कि कारगिल का युद्ध कोई बड़ा युद्ध नहीं था. उन्हें याद नहीं कि उस लड़ाई में देश के 500 से ज्यादा जवानों ने शहादत दी. हिमाचल में 50 से ज्यादा माताओं में अपने बेटे , बहनों ने अपने भा , बीवियों में अपने सुहाग को खोया.

कांग्रेस की हार निश्चित- भाजपा

उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस को कारगिल के हीरो के ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर के सामने अपनी हार निश्चित लग रही है तो उसने कन्हैया कुमार को अपना स्टार प्रचारक बना दिया. क्या कांग्रेस पार्टी को कोई और नहीं मिला था ? हमें लगता है कि एक सैनिक के खिलाफ कांग्रेस जानबूझकर उस शख्स को लाई जो सेना और सैनिकों के बलिदान का अपमान करता है. कश्यप ने कहा कि हिमाचल प्रदेश को वीरभूमि कहा जाता है, यहां के सैकड़ों वीर जवानों ने देश के लिए शहादत दी है. हिमाचल के चार बेटों को परमवीर चक्र मिला है. देश को तबाह करने का ख्वाब देखने वाले कन्हैया कुमार को हिमाचल लाकर कांग्रेस ने इस वीरभूमि का अपमान किया है. उन्होंने कहा हिमाचल मेजर सोमनाथ शर्मा की धरती है , कैप्टन विक्रम बत्रा की धरती है. आज वे शहीद स्वर्ग से देख रहे होंगे और उन्हें कितना दुख हो रहा होगा. वीरभद्र सिंह जी देशभक्त थे, हमें यकीन है कि वो आज होते तो कन्हैया कुमार जैसे शख्स को हिमाचल की धरती पर पांव नहीं रखने देते. साथ ही कहा कि आज कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है जिस आधार पर वो वोट मांगे. आज कभी वीरभद्र सिंह जी को श्रद्धांजलि के नाम पर वोट मांगे जा रहे हैं तो कभी देवताओं की कसमें खिलाई जा रही हैं.

Tags: Himachal election, Himachal news, Himachal Politics, Kanhaiya kumar

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर