इंदू गोस्वामी का इस्तीफा मंजूर, धनेश्वरी को हिमाचल BJP महिला मोर्चा की कमान

धनेश्वरी ठाकुर वर्तमान में बीजेपी महिला मोर्चा की महामंत्री हैं और कुल्लू जिला परिषद के वार्ड नसोगी से सदस्य है. धनेश्वरी ठाकुर कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर की बहन है.

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 19, 2019, 3:34 PM IST
इंदू गोस्वामी का इस्तीफा मंजूर, धनेश्वरी को हिमाचल BJP महिला मोर्चा की कमान
धनेश्वरी ठाकुर और इंदु गोस्वामी. (फाइल फोटो)
Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 19, 2019, 3:34 PM IST
हिमाचल भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष इंदू गोस्वामी का इस्तीफा मंजूर हो गया है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने इस्तीफा मंजूर कर लिया है. इसके बाद महिला मोर्चा की कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में मनाली की धनेश्वरी ठाकुर को नियुक्ति दी गई है.

कौन हैं धनेश्वरी ठाकुर
धनेश्वरी ठाकुर वर्तमान में बीजेपी महिला मोर्चा की महामंत्री हैं और कुल्लू जिला परिषद के वार्ड नसोगी से सदस्य है. धनेश्वरी ठाकुर कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर की बहन है. धनेश्वरी ठाकुर की नियुक्ति तत्काल प्रभावी हो गई है. इंदू गोस्वामी ने ईमेल के जरिए बीजेपी अध्यक्ष को अपना इस्तीफा भेजा था. हालांकि अभी तक इस्तीफे के कारण स्पष्ट नहीं हुए हैं.

इसलिए इंदु ने दिया इस्तीफा

सूत्रों के मुताबिक, इंदू गोस्वामी पालमपुर हलके में वरिष्ठ नेताओं के दखल से आहत थी. इस विषय को इंदू गोस्वामी ने पार्टी फोरम पर भी उठाया था. इंदू गोस्वामी ने 2017 का विधानसभा चुनाव पालमपुर हलके से लड़ा था. न्यूज18 से फोन से बातचीत में इंदु गोस्वामी ने कहा कि वह इस बारे में ज्यादा बात नहीं करेंगी. हालांकि, उन्होंने कहा कि संगठन के साथ उनके कुछ इश्यू थे. इस बारे में संगठन मंत्री पवन राणा को भी बताया था. उन्होंने कहा कि वह भाजपा की कर्मठ कार्यकर्ता की तरह काम करती रहेंगी.

पालमपुर से लड़ीं थी चुनाव
गौरतलब है कि इंदु गोस्वामी ने शांता कुमार के गृह क्षेत्र पालमपुर से भाजपा के टिकट से 2017 का विधानसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन वह चुनाव हार गई थी. भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने बताया कि इंदु गोस्वामी का इस्तीफा पार्टी दफ्तर में ई-मेल के जरिए आया है.
Loading...

महिला आयोग की अध्यक्ष भी रहीं
2017 विधानसभा चुनाव में भाजपा से विधायक रहे और शांता कुमार के करीबी प्रवीण शर्मा को टिकट नहीं दिया गया. इससे नाराज़ प्रवीण ने बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ा है. इस वजह से भाजपा की प्रत्याशी इंदु गोस्वामी चुनाव हार गई थी. मोदी की करीबी होने के चलते दिल्ली से उनका टिकट फाइनल किया गया था. इंदू साल 2000 से 2003 तक प्रदेश महिला आयोग अध्यक्ष रहीं और 2013-2016 तक भाजपा प्रदेश सचिव भी रहीं. अभी वह भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष थी.

ये भी पढ़ें: CM के सामने BJP MLA ध्वाला के खिलाफ फूटी ‘अपनों की ज्वाला‘

हिमाचल BJP महिला मोर्चा की अध्यक्ष इंदु गोस्वामी का इस्तीफा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 19, 2019, 3:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...