Home /News /himachal-pradesh /

राजधानी की लाइफ लाइन हुई बंद, सर्कुलर रोड पर नई यातायात व्यवस्था शुरू

राजधानी की लाइफ लाइन हुई बंद, सर्कुलर रोड पर नई यातायात व्यवस्था शुरू

राजधानी शिमला की लाइफ लाइन मानी जाने वाली सर्कुलर रोड को वाहनों के लिए पूर्ण रुप से बंद कर दिया गया है. हाईकोर्ट के पास सर्कुलर रोड के धसने से राजधानी में यातायात व्यवस्था की समस्या खड़ी हो गई है. प्रशासन ने आज से शिमला में नई यातायात व्यवस्था को अमली जामा पहना दिया है.

राजधानी शिमला की लाइफ लाइन मानी जाने वाली सर्कुलर रोड को वाहनों के लिए पूर्ण रुप से बंद कर दिया गया है. हाईकोर्ट के पास सर्कुलर रोड के धसने से राजधानी में यातायात व्यवस्था की समस्या खड़ी हो गई है. प्रशासन ने आज से शिमला में नई यातायात व्यवस्था को अमली जामा पहना दिया है.

राजधानी शिमला की लाइफ लाइन मानी जाने वाली सर्कुलर रोड को वाहनों के लिए पूर्ण रुप से बंद कर दिया गया है. हाईकोर्ट के पास सर्कुलर रोड के धसने से राजधानी में यातायात व्यवस्था की समस्या खड़ी हो गई है. प्रशासन ने आज से शिमला में नई यातायात व्यवस्था को अमली जामा पहना दिया है.

अधिक पढ़ें ...
राजधानी शिमला की लाइफ लाइन मानी जाने वाली सर्कुलर रोड को वाहनों के लिए पूर्ण रुप से बंद कर दिया गया है. हाईकोर्ट के पास सर्कुलर रोड के धसने से राजधानी में यातायात व्यवस्था की समस्या खड़ी हो गई है. प्रशासन ने आज से शिमला में नई यातायात व्यवस्था को अमली जामा पहना दिया है.

लिफ्ट की ओर जाने वाले सभी वाहनों को टोललैंड के पास रोका जा रहा है जबकि आईएसबीटी की ओर जाने वालों को वाया खलिणी भेजा जा रहा है. लोगों को परेशानी से बचाने के लिए पुलिस के जवान को लोगों लगातार जानकारी दे रहे हैं.

वहीं, बस में यात्रा वाले लोगों के लिए टोललैंड के पास परिवहन की बसें खड़ी रहेगी जो लिफ्ट तक यात्रियों को छोड़ेगी. संजोली जाने वाले यात्रियों के लिए भी टोललैंड के पास निजी और सरकारी बसें मिलेगी. संजोली के लिए वाया विकट्री टनल, लक्कड़ बाजार से भी बसें भेजी जा रही हैं, लेकिन समरहिल के लिए बसें केवल आईएसबीटी से होकर ही जाएंगी.

पंथाघाटी की ओर जाने वाले यात्रियों को महीना भर परेशानी का सामना करना पड़ेगा, क्योंकि पंथाघाटी के लिए बसें आईएसबीटी से ही जाएंगी। हाईकोर्ट के पास हजारों लोगों को पैदल चलना पड़ रहा है. लोग नई ट्रैफिक व्यवस्था पर मिली-जुली प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

जिला प्रशासन ने लोगों से एक महीने के भीतर सर्कुलर रोड को ठीक करने का वादा किया है. रोड के मरम्मत की अगर बात करें तो आज से ही कार्य युद्ध स्तर पर कार्य शुरू हो गया है. प्रशासन की नई ट्रैफिक व्यवस्था से लोगों को परेशानी जरुर हुई, लेकिन यदि प्रशासन ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू चलाने में कामयाब रहा तो लोगों को चार महीनों से हो रही यातायात व्यवस्था की परेशानी से कुछ निजात मिलने की उम्मीद की जा सकती है.

लोकनिर्माण विभाग के प्रमुख अभियंनता नरेश शर्मा ने मौके का जायजा लिया और रोड को जल्द ठीक करने का आश्‍वासन दिया.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर