Home /News /himachal-pradesh /

हिमाचल पुलिस ने वाहन चोरी करने वाले गैंग का किया भंडाफोड़, 5 आरोपी गिरफ्तार

हिमाचल पुलिस ने वाहन चोरी करने वाले गैंग का किया भंडाफोड़, 5 आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने इस गिरोह को पकड़ा और एक पिकअप गाड़ी भी बरामद की है.

पुलिस ने इस गिरोह को पकड़ा और एक पिकअप गाड़ी भी बरामद की है.

Car theft Gang in Shimla: कार चुराने वाले गिरोह के आरोपी शिमला से पुरानी गाड़ियां चुराते थे और उन्हें कबाड़ में बेच देते थे. आरोपियों में पंजाब और हिमाचल के युवक शामिल हैं.

शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) में पुलिस ने गाड़ी चोरों को पकड़ लिया है. अलग-अलग थानों में दर्ज मामलों में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है. यह एक गैंग है, जो मिलकर चोरी की वारदात को अंजाम देता था. आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने बिलासपुर और अन्य जिलों की पुलिस की भी मदद ली. गुरुवार को पुलिस ने इस गिरोह को पकड़ा और एक पिकअप गाड़ी भी बरामद की. मुख्य आरोपी बिलासपुर (Bilaspur) में पूरे फिल्मी स्टाइल में पकड़ा गया.

पुलिस ने पहले आरोपी की गाड़ी का पीछा किया. बिलासपुर में एक स्थान पर बालूगंज थाने की गाड़ी ने रूट बदला. बिलासपुर पुलिस की गाड़ी आरोपी की गाड़ी का पीछा करती रही. कुछ दूरी के बाद पुलिस की गाड़ियों ने आरोपी की गाड़ी को आगे-पीछे से रोक दिया.

news18, himachal, crime, shimla

इस गैंग का मुखिया शिमला से गाड़ी चोरी करके ले जाता था. गिरोह के कुछ सदस्य गाड़ियों को बेचने की डील करते थे.

शिमला के डीएसपी कमल वर्मा ने बताया कि इस गिरोह के हर सदस्यों को अलग अलग रोल दिए गए थे. इस गैंग का मुखिया शिमला से गाड़ी चोरी करके ले जाता था. गिरोह के कुछ सदस्य गाड़ियों को बेचने की डील करते थे और 30-35 हजार रुपये में गाड़ियों को कबाड़ियों को बेच दिया जाता था. ये गिरोह शिमला से पुरानी गाड़ियों को ही चुराकर ले जाते थे, ताकि आसानी से तोड़फोड़ कर कबाडियों को बेची जाए.

31 साल का है मुख्य आरोपी
गैंग का मुखिया 31 वर्षीय सुनील उर्फ काकू चोरी के मामलों में कई बार जेल जा चुका है. चोरी के एक केस में सुनील एक महीना पहले ही सजा काटकर आया था. शिमला में होंडा सिटी कार चोरी के मामले में सुनील ऊर्फ काकू को साढ़े तीन साल की सजा हुई थी. जेल से छूटने के बाद भी ये नहीं सुधरा और फिर से चोरी करना शुरू कर दिया. मोबाइल से लोकेशन ट्रेस न हो, इसलिए मुख्य आरोपी अपने पास फोन भी नहीं रखता था.

पुलिस के मुताबिक, बीते 10 दिनों के भीतर राजधानी में 6 गाड़ियां चोरी हुईं, इनमें 1 गाड़ी सदर थाना क्षेत्र, 2 बालूगंज और 1-1 ढली और छोटा शिमला थाना क्षेत्र से चोरी हुई थी. सभी थानों के आईओ समेत थाना प्रभारी जांच में जुटे हुए थे, एसपी शिमला, मोनिका भुटूंगरू खुद भी सभी मामलों को मॉनिटर कर रहीं थीं. इस मामले में पहले पुलिस ने दो कबाड़ियों को गिरफ्तार किया था, उनसे पूछताछ के बाद इन चोरों के बारे में पता चला.

हिमाचल और पंजाब से हैं आरोपी
पुलिस ने बिलासपुर सबसे पहले सुनील को गिरफ्तार किया. इसी से पिकअप बरामद की. सुनील कुमार पुत्र जगत सिंह गांव लदरौर तहसील भोरंज जिला हमीरपुर का रहने वाला है. इसके साथ ही श्याम लाल (35) पुत्र बाबू राम निवासी जुखाला जिला बिलासपुर पकड़ा गया. इनसे पूछताछ के बाद ढली थाना पुलिस ने अजय कुमार (27) पुत्र हेमराज गांव व डाकघर धानगर तहसील घुमारवीं जिला बिलासपुर को गिरफ्तार किया. इसे बिलासपुर जिला के डांगर से गिरफ्तार किया. इसके बाद अवतार सिंह (60) पुत्र स्व. अमर सिंह गांव मोरिंडा रोपड़ पंजाब और संदीप कुमार उर्फ चीनू (42) पुत्र तुलसी राम गांव डाकोली तहसील घुमारवीं जिला बिलासपुर को गिरफ्तार किया.

Tags: Himachal Police, Shimla

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर