लाइव टीवी

VIDEO: दीक्षांत समारोह के बाद हंगामा, केंद्रीय मंत्री पोखरियाल से हुई बहसबाजी

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 29, 2019, 7:07 PM IST
VIDEO: दीक्षांत समारोह के बाद हंगामा, केंद्रीय मंत्री पोखरियाल से हुई बहसबाजी
एचपीयू में केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल और अन्य मंत्री.

Himachal Pradesh University Convocation: जैसे ही दोनों केंद्रीय मंत्री बाहर निकले तो एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने फिर से उनसे मिलने की कोशिश की.पुलिस के दोबारा रोकने पर छात्र फिर भड़क गए.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी (Himachal Pradesh University) का 25वां दीक्षांत समारोह (Convocation program) हंगामे से भरा रहा. दो केंद्रीय मंत्रियों का स्वागत SFI ने विरोध-प्रदर्शन के साथ किया. जब मंत्री समारोह से निकले तो छात्रों के साथ बहसबाजी हो गई और बात धुक्कामुक्की तक पहुंच गई. दीक्षांत समारोह में केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक (Ramesh Pokhriyal Nishank) मुख्य अतिथि थे. केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने बतौर विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत की. संसद सत्र में हिस्सा लेने के लिए दोनों मंत्री समारोह से जल्दी बाहर निकल गए.

छात्र संगठन सौंपना चाहता था मांगपत्र
सभागार के बाहर एबीवीपी कार्यकर्ता (ABVP Workers) मंत्री से बात करने के लिए इंतजार कर रहे थे. छात्र संगठन मांग पत्र भी सौंपना चाहते थे, लेकिन मंत्री ने इनकार कर दिया और सीधे वीसी ऑफिस चले गए. केंद्रीय मंत्री मीडिया के सवालों से भी बचते हुए नजर आए. इस बीच पुलिस ने छात्रों को रोक दिया. पुलिस के रोकने पर छात्र भड़क गए और हल्की नोंक झोंक हुई.

दोबारा बाहर निकले तो..

जैसे ही दोनों केंद्रीय मंत्री बाहर निकले तो एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने फिर से उनसे मिलने की कोशिश की. पुलिस के दोबारा रोकने पर छात्र फिर भड़क गए. पुलिस के साथ धक्का-मुक्का और नोंक-झोंक हुई. यहां तक कि रमेश पोखरियाल के साथ एबीवीपी कार्यकर्ताओं की बहस भी हुई. एमएचआरडी मिनिस्टर और अनुराग ठाकुर पुलिस के घेरे में अपनी कार तक पहुंचे और रवाना हो गए. छात्र संगठनों ने केंद्रीय मंत्री के व्यवहार पर नाराजगी जताई.

सभागार के बाहर एबीवीपी कार्यकर्ता मंत्री से बात करने के लिए इंतजार कर रहे थे.
सभागार के बाहर एबीवीपी कार्यकर्ता मंत्री से बात करने के लिए इंतजार कर रहे थे.


शोभा यात्रा से शुरुआत
Loading...

इससे पहले, दीक्षांत समारोह की शुरुआत शोभा यात्रा के साथ हुई. पुरानी परंपरा को बदलते हुए इस बार दीक्षांत समारोह में हिमाचली पोशाक पहनी गई. गाउन को बाय-बाय कहा गया और टोपी के स्थान पर पहाड़ी संस्कृति का प्रतीक हिमाचली टोपी पहनी गई. राज्यपाल और एचपीयू के कुलाधिपति बंडारू दत्तात्रेय ने समारोह की अध्यक्षता की. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज भी मौजूद रहे. इस दौरान 275 छात्रों को पीएचडी की उपाधि और एक को डी-लिट की उपाधि प्रदान की गई, जबकि 107 टॉपर्स को गोल्ड मेडल से नवाजा गया.



यह बोले दोनों केंद्रीय मंत्री
समारोह में 65 छात्र नहीं पहुंच पाए. संबोधन के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने एचपीयू की तारीफ की. ICT और खेलों को बढ़ावा देने के लिए इंडोर स्टेडियम के लिए आर्थिक मदद का ऐलान भी किया. उन्होंने कहा कि एचपीयू से जेपी नड्डा, आनंद शर्मा से लेकर राज्य स्तर के कई बड़े नेता निकले हैं. साथ छात्रों को भी प्रोत्साहित किया. वहीं, दूसरी ओर, देश के शिक्षा मंत्री मोटिवेशनल स्पीकर की तरह बोलते हुए नजर आए. कभी संस्कृति तो कभी अध्यात्म तो कभी उपनिष्दों के बारे में बोलते रहे तो ग्लोबल वॉर्मिंग पर चिंता व्यक्त करते रहे. कभी हिमालय की महानता बताते रहे तो कभी पीएम मोदी की तारी की.

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी (एचपीयू) का 25वां दीक्षांत समारोह.
हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी (एचपीयू) का 25वां दीक्षांत समारोह.


यह भी बोले शिक्षा मंत्री
केंद्रीय शिक्षा मंत्री पोखरियाल ने केवल नई शिक्षा नीति पर इतना कहा कि 33 वर्षों के बाद देश में नई शिक्षा नीति तैयार की जा रही है. यह नीति अब तक की श्रेष्ठ शिक्षा नीति होगी. शिक्षा और छात्रों से जुड़े मुद्दों पर कुछ नहीं बोले और इससे भाषण से सभी छात्रों में निराशा था. वहीं, दूसरी ओर, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने एचपीयू और छात्रों की प्रशंसा के साथ साथ मदद का भी आश्वासन दिया और डिग्री और मेडल लेने वाले छात्रों को बधाई दी. इस बार भी डिग्री और मेडल लेने वालों में छात्रों की संख्या ज्यादा रही. छात्र काफी उत्साहित नजर आए तो कुछ छात्राएं सांकेतिक हिमाचली पोशाक होने से नाराज दिखीं. उनका कहना था कि पूरी ड्रेस हिमाचली होनी चाहिए थी.

ये भी पढ़ें- हिमाचल: पहली धुलाई में ही उतर गया स्मार्ट वर्दी का रंग, CM ने मांगी रिपोर्ट

हिमाचल के कायल हुए Big-B, ‘यहां की सच्‍चाई-सादगी के बराबर कभी नहीं पहुंच सकते‘

हमीरपुर ब्लाइंड मर्डर: पैरों और माथे पर ठोकी थी कीलें, दो दोषियों को उम्रकैद

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 29, 2019, 5:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...