लाइव टीवी

CM का दिल्ली दौरा: वित्तमंत्री सीतारमण और अनुराग ठाकुर से मिले जयराम

News18 Chhattisgarh
Updated: November 22, 2019, 10:37 AM IST
CM का दिल्ली दौरा: वित्तमंत्री सीतारमण और अनुराग ठाकुर से मिले जयराम
दिल्ली में वित्तमंत्री सीतारमण से मुलाकात करते सीएम जयराम ठाकुर.

CM Jairam Thakur Delhi Tour: सीएम ने आग्रह किया कि ऊना-हमीरपुर रेल लिंक (Hamirpur Una Rail link) को भारत सरकार शत-प्रतिशत धन राशि उपलब्ध करवाए, जिसके लिए मामला पहले ही केन्द्र से उठाया जा चुका है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) बीते चार दिन से दिल्ली दौरे पर हैं. लगातार कई केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात कर रहे हैं. गुरुवार को सीएम जयराम ठाकुर ने जहां पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narender Modi) से मुलाकात की, वहीं, देर शाम सीएम केन्द्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से भी मिले. इस दौरान अनुराग ठाकुर (Anurag Thakur) भी मौजूद थे.

सीएम ने केन्द्रीय मंत्री से आग्रह किया कि केन्द्र सरकार को सौंपी गई राज्य सरकार की बाह्य सहायता प्राप्त परियोजनाओं को शीघ्र मंजूरी दी जाए. उन्होंने शिमला, मनाली, धर्मशाला रज्जू मार्गों, ओवर हैड परिवहन प्रणाली पयोजनाओं और वन प्रबन्धन आदि योजनाओं पर केन्द्रीय मंत्री से चर्चा की, जिन्हें केन्द्र सरकार को भेजा गया है. निर्मला सीतारमण ने आश्वासन दिया कि हिमाचल सरकार की सभी परियोजनाओं का उनका मंत्रालय हर सम्भव सहयोग प्रदान करेगा. वित्त मामलों के केन्द्रीय राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर भी मौके पर चर्चा की.

पीयूष गोयल से चण्डीगढ़-बद्दी रेललाइन कार्य में तेजी लाने का आग्रह
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दिल्ली में केन्द्रीय रेलवे मंत्री पीयूष गोयल से भी भेंट कर चण्डीगढ़-बद्दी रेल लाइन के कार्य में तेजी लाने का अनुरोध किया. उन्होंने कहा कि यह रेल लाइन औद्योगिक क्षेत्र में परिवहन के लिहाज से महत्वपूर्ण है और साथ ही इससे प्रदेश में निवेशकों को आकर्षित करने में भी सहायता मिलेगी.

सीएम जयराम ठाकुर और रेल मंत्री पीयूष गोयल.
सीएम जयराम ठाकुर और रेल मंत्री पीयूष गोयल.


सीएम ने यह भी मांग की
सीएम ने आग्रह किया कि ऊना-हमीरपुर रेल लिंक को भारत सरकार शत-प्रतिशत धन राशि उपलब्ध करवाए, जिसके लिए मामला पहले ही केन्द्र से उठाया जा चुका है. उन्होंने कहा कि राज्यों के लिए कनैक्टिीविटी एक बड़ा मुद्दा है और सड़कें ही परिवहन का मुख्य माध्यम है, इसलिए रेल नेटवर्क का विस्तार बहुत आवश्यक है ताकि प्रदेश की प्रगति को गति दी जा सके.भाड़ा कम करने पर विचार करें-सीएम
मुख्यमंत्री ने भूतल अथवा ऊपर से बिजली व पानी की लाइने बिछाने का कार्य बिना शुल्क करने की स्वीकृति प्रदान करने और पहाड़ी राज्यों को लाईसेंस शुल्क से छूट देने का भी आग्रह किया. उन्होंने यह भी अनुरोध किया कि माल यातायात विशेषकर पहाड़ी राज्यों में उत्पादित होने वाले कृषि एवं बागवानी उत्पादों पर भाड़ा कम करने पर विचार किया जाए. केन्द्रीय मंत्री ने उनकी सभी मांगों पर अपना हर सम्भव सहयोग देने का आश्वासन दिया. उन्होंने कहा कि भाड़े में कटौती के मामले पर अध्ययन करने के बाद उचित निर्णय लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें: इंस्पेक्टर कर रहा था टालमटोल, VIDEO बना तो काटा ‌BJP MLA अनिल शर्मा का चालान

हिमाचल के कुल्लू में लकड़ी के मकान में लगी आग, पिता-पुत्र जिंदा जले, मौत

हिमाचल: दुष्कर्म से गर्भवती हुई 16 वर्षीय नाबालिग ने बेटी को दिया जन्म

संतान प्राप्ति की मान्यता ले डूबी! मंदिर के पास नहाने गई मां-बेटी की मौत

Exclusive: योगी सरकार की राह पर प्रशासन, एडवांस स्टडीज का नाम बदलने की तैयारी!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 22, 2019, 10:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर