लाइव टीवी

CM हेल्पलाइन पर आई शिकायत का नहीं हुआ निवारण, संयुक्त निदेशक समेत 4 कर्मियों को नोटिस

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 23, 2020, 5:45 PM IST
CM हेल्पलाइन पर आई शिकायत का नहीं हुआ निवारण, संयुक्त निदेशक समेत 4 कर्मियों को नोटिस
समीक्षा बैठक के दौरान सीएम जयराम ठाकुर.

Complaints on CM Helpline: सात दिन तक कुछ भी न होने पर कम्प्लेंट एल टू पर भेजी गई, जिसमें शहरी विकास विभाग के दो जेई ने कार्रवाई करनी थी, लेकिन यहां भी शिकायत को नजरअंदाज किया गया

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की सीएम हेल्पलाइन (CM Helpline) 1100 नंबर पर की गई शिकायत को लेकर लापरवाही बरतना चार अधिकारी-कर्मचारी भारी पड़ गया है. सीएम जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने एल वन से लेकर एल थ्री तक के अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस देने के आदेश दिए हैं.

दरअसल, गुरुवार को सीएम सेवा संकल्प हेल्पलाइन स्थित टूटीकंडी में समीक्षा बैठक हुई. बैठक में सीएम जयराम ठाकुर ने ऐसे लोगों से भी बात की, जिनकी समस्याओं का सीएम हेल्पलाइन से समाधान हुआ है.

इस मामले पर कार्रवाई
समीक्षा बैठक के दौरान मंडी जिला का एक मामला प्रकाश में आया. यहां एक महिला सुनिला देवी ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की थी कि इनके गांव पुरानी मंडी में घर के पास एक हलवाई की दुकान और दूसरे घरों का गंदा पानी आ रहा है, जिसकी वजह से इनके घर को खतरा है. सीएम हेल्पलाइन से यह शिकायत स्थानीय पंचायत सचिव को ट्रांसफर की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

स्तर दर स्तर बढ़ती गई शिकायत
सात दिन तक कुछ भी न होने पर कम्प्लेंट एल टू पर भेजी गई, जिसमें शहरी विकास विभाग के दो जेई ने कार्रवाई करनी थी, लेकिन यहां भी शिकायत को नजरअंदाज किया गया और फिर शिकायत एल थ्री यानि संयुक्त निदेशक शहरी विकास विभाग के पास पहुंची और अधिकारी ने बिना जांचे परखे शिकायत को बंद करवा दिया. यह मामला जब सीएम के संज्ञान में आया तो सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को नोटिस जारी करने के निर्देश जारी कर दिए गए.

न्यूज18 से यह बोले सीएमसीएम जयराम ठाकुर ने न्यूज 18 से खास बातचीत में कहा कि शिकायतों को गंभीरता से न लेने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को बख्शा नहीं जाएगा. ऐसे मामले आने पर कार्रवाई निश्चित है. शिमला में हुई समीक्षा बैठक की रिपोर्ट देते हुए सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि अब तक सीएम हेल्पलाइन पर 2 लाख 5 हजार 111 कॉल्स आई हैं. इनमें कुछ शिकायतें हैं, कुछ मांगे और सुझाव भी शामिल हैं. जो शिकायतें और समस्याएं आई हैं, उनकी संख्या 50 हजार 887 है जबकि मांग के रूप में 8998 कॉल्स आई हैं. अब तक 28 हजार 313 समस्याओं और शिकायतों का निवारण हुआ है. सरकार ने कुल 56 प्रतिशत का समाधान किया है. सीएम कार्यालय और दौरों के दौरान लोगों की ओर से दी जाने वाली लिखित समस्याओं और शिकायतों को भी सीएम हेल्पलाइन में जोड़ने का फैसला किया गया है.

हिमाचल में भी होगा सीएम डैशबोर्ड
गुजरात की तर्ज पर हिमाचल भी सीएम डैशबोर्ड लांच करेगा. सीएम जयराम ठाकुर ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि गुजराम में सबसे अच्छा सीएम डैशबोर्ड चल रहा है. इसमें सभी विभाग एक ही प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हैं और उनकी मॉनिटरिंग भी आसान हो जाती है. योजनाओं के क्रियान्वयन के स्तर का भी पता चलता है. लोगों को भी सरकारी योजनाओं की यहां जानकारी मिलेंगी. हिमाचल से अधिकारियों का एक दल जल्द गुजरात भेजा जाएगा, जहां पर वे सीएम डैशबोर्ड की ट्रेनिंग लेंगे.

ये भी  पढ़ें: हिमाचल सरकार से नहीं मिला सहयोग, 400 करोड़ के निवेश से हाथ खींचे, CM को पत्र

हिमाचल में अब तक बर्फबारी-बारिश से 8 मौतें, 21 करोड़ रुपये का नुकसान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 5:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर