रेन वॉटर हार्वेस्टिंग टैंक को लेकर आपस मे भिड़े पार्षद, एक-दूसरे को दी ये धमकी

नगर निगम शिमला की मासिक बैठक में कांग्रेस और भाजपा के पार्षद रेन वाटर हार्वेस्टिंग टैंक के निर्माण कार्य को लेकर आपस में उलझ गए.

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 29, 2019, 7:56 PM IST
रेन वॉटर हार्वेस्टिंग टैंक को लेकर आपस मे भिड़े पार्षद, एक-दूसरे को दी ये धमकी
नगर निगम शिमला में दो पार्षद आपस में भिड़ गए
Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 29, 2019, 7:56 PM IST
हिमाचल प्रदेश के नगर निगम शिमला की शनिवार को हुई मासिक बैठक में एक बार फिर हंगामा देखने को मिला. इस बार मामला वार्ड में किए जाने वाले विकासकार्यों को लेकर हुआ है. निगम की मासिक बैठक में कांग्रेस और भाजपा के पार्षद रेन वॉटर हार्वेस्टिंग टैंक के निर्माण कार्य को लेकर आपस में उलझ गए. मासिक बैठक में दोनों पार्षदों के बीच तीखी नोकझोंक हुई. दरअसल यह नोकझोंक जाखू वार्ड में बनने जा रहे रेन वाटर हार्वेस्टिंग के निर्माण कार्य को लेकर हुई है.

यह है मामला

संबंधित वार्ड पार्षद ने बैनमोर वार्ड पार्षद पर टैंक के निर्माण कार्य को लेकर घुसपैठ करने का आरोप लगाया और निगम सदन से काम रुकवाने की मांग की है. जाखू वार्ड पार्षद अर्चना धवन का कहना है कि जाखू वार्ड में अम्रुत योजना के तहत करीब 40 लाख से करीब 860 लीटर की क्षमता वाला रेन वाटर हार्वेस्टिंग टैंक बनना प्रस्तावित है. इसके लिए लिए टेंडर प्रक्रिया भी पूरी हो गई है, लेकिन फारेस्ट क्लियरेंस नहीं मिलने से काम शुरू नहीं हो पाया है.

मेरे वार्ड में कोई कैसे कर सकता है घुसपैठ : अर्चना धवन

अर्चना धवन ने कहा कि बैनमोर वार्ड पार्षद ने इस काम को करने के लिए उच्च स्तर पर हेराफेरी कर टैंक का निर्माण कार्य शुरु करने के लिए भूमि पूजन कर लिया है साथ ही शहर का पहला रेन वाटर हार्वेस्टिंग टैंक के लिए सरकार से प्राइज भी ले लिया है. अर्चना धवन ने कहा कि जाखू वार्ड की पार्षद वह हैं तो दूसरे वार्ड की पार्षद उनके वार्ड में कैसे कार्य सकती है. उन्होंने बैनमोर वार्ड पार्षद किम्मी सूद से पूछा है कि वे काम करने में सक्षम हैं यदि वे उनके वार्ड में निर्माण कार्य को बंद नहीं करती हैं तो वह कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगी.

किम्मी सूद का ये है कहना

वहीं इस मामले पर भाजपा पार्षद और बैनमोर पार्षद किम्मी सूद का कहना है कि 2016 में वार्डों के पुनर्सीमांकन से पहले जाखू और बैनमोर वार्ड की सीमा एक ही थी तो उस समय भाजपा से सम्बंध रखने वाले वार्ड पार्षद रेन वाटर हार्वेस्टिंग टैंक बनाने का प्रस्ताव पारित किया था. अम्रुत योजना के तहत करीब 40 लाख रुपए से टैंक बनाया जा रहा है टैंक का निर्माण बैनमोर वार्ड में जगह न मिलने के कारण जाखू वार्ड में बनाया जा रहा है.
Loading...

2016 से ही टैंक निर्माण का कार्य लटका हुआ है

उन्होंने कहा कि वे टैंक का निर्माण कार्य इसलिए कर रही कि 2016 से जो काम लटका पड़ा है उसे समय रहते पूरा कर लोगों को सुविधा प्रदान करना है. उन्होंने कहा की यदि जाखू वार्ड की पार्षद काम को लेकर गम्भीर और सक्षम होती तो काम समय रहते पूरा करते. उन्होंने कहा कि वार्ड पार्षद का आरोप निराधार है. यदि अर्चना धवन सच में विकासकार्य करना चाहती हैं तो वे इस कार्य को छोड़ कर उन्हें काम में मदद दे सकती हैं. उन्होंने कहा कि वे इस मामले को मुख्यमंत्री के समक्ष उठाएगी.

मेयर कुसुम सदरेट ने एक दूसरे के वार्ड में हस्तक्षेप नहीं करने का आग्रह

वहीं मेयर कुसुम सदरेट ने एक दूसरे के वार्ड में हस्तक्षेप न करने का आग्रह किया है साथ ही दोनों पार्षदों के बीच चल रहे विवाद को सुलझाने की बात कही है. उन्होंने कहा कि सभी पार्षदों को वार्ड की जनता ने जिताकर यहां भेजा है इसलिए वार्ड पार्षद को अपने वार्ड में विकासकार्य को करने का पूरा अधिकार है.

इस बैठक में शहर के विभिन्न विकासकार्यों को लेकर चर्चा हुई. बैठक में निगम की आय को बढ़ाने के लिए शहर की पार्किंग को ठेके पर देने और होर्डिंग साईट से भी आय अर्जित करने के लिए ठेके पर जगह दी जाएंगी. मासिक बैठक के दौरान शहर के विकासकार्यों में रोड़ा बनी एनओसी को लेकर भी हंगामा देखने को मिला जिसमें पार्षदों ने वन विभाग से जल्द एनओसी देने की मांग की है.

यह भी पढ़ें : अपराध में वृद्धि पर जेनब बोलीं- कैसे पढ़ेंगी, कैसे बढ़ेंगी

धर्मशाला में बसों में ओवलोडिंग पर नहीं लग पाई रोक
First published: June 29, 2019, 7:49 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...