होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /G-23 कोई गुट नहीं, केवल नेताओं की संख्या, मीडिया ने दिया है नाम : कांग्रेस नेता आनंद शर्मा

G-23 कोई गुट नहीं, केवल नेताओं की संख्या, मीडिया ने दिया है नाम : कांग्रेस नेता आनंद शर्मा

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा इन दिनों अपने गृह जिले शिमला के दौरे पर हैं.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा इन दिनों अपने गृह जिले शिमला के दौरे पर हैं.

Congress Leader Anand Sharma in Shimla: G-23 ग्रुप को लेकर आनंद शर्मा ने कहा कि ये केवल नेताओं की संख्या है, गुट नहीं ह ...अधिक पढ़ें

    शिमला. हिमाचल चुनावों को लेकर गठित कांग्रेस की संचालन समिति के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा इन दिनों अपने गृह जिले शिमला के दौरे पर हैं. आनंद शर्मा ने भाजपा पर फिर हमला बोला और साथ ही G-23 ग्रुप के बारे में भी सफाई दी.

    राजधानी में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आनंद शर्मा ने कहा कि भाजपा के खिलाफ देश और प्रदेश में वादा खिलाफी और सत्ता विरोधी लहर चल रही है. भाजपा के पास दिल्ली और शिमला में दोनों जगहों पर केवल प्रचंड प्रचार तंत्र है. उन्होंने कहा कि जनता भाजपा के 5 साल पहले के चुनावी घोषणा पत्र को फिर देखें और हिसाब लगाए तो अपने आप सच सामने आ जाएगा.

    G-23 ग्रुप को लेकर आनंद शर्मा ने कहा कि ये केवल नेताओं की संख्या है, गुट नहीं है, G-23 नाम मीडिया ने दिया. उन्होंने सफाई दी कि उस पत्र पर 23 ही लोगों ने हस्ताक्षर किए थे, और अधिक लोगों ने साइन किए होते तो मीडिया कुछ और नाम देता. उन्होंने कहा कि जी-23 कांग्रेस को मजबूत करने का काम कर रहे हैं. संगठन को मजबूत करने के लिए सुझाव देना और अपनी बात कहना प्रजातंत्र की जरूरत है. साथ ही कहा कि उदयपुर में हुए मंथन के बाद बनाई गई पॉलिटकल अफेयर्स कमेटी में मेरे साथ गुलाम नबी आजाद भी सदस्य हैं. टास्क फोर्स में मुकूल वासनिक हैं. उन्होंने कहा कि अब भी कांग्रेस की सबसे बड़ी बॉडी कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य हैं. उन्होंने कहा कि सभी नेता कांग्रेस को मजबूत करने का काम कर रहे हैं.

    शिमला दौरे को लेकर आनंद शर्मा ने कहा कि यहां सियासी मकसद से नहीं आते हैं. शिमला मेरा घर है. बाहर से लोग राजनीति करने के लिए आते हैं. उन्होंने कहा कि जब राजनीति के लिए दिल्ली गया था तो मन से नहीं गया था. हिमाचल में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर उन्होंने कहा कि कांग्रेस महंगाई, बेरोजगारी, महिलाओं, किसानों और बागवानों के साथ साथ हर वर्ग के मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएगी. उन्होंने फिर दोहराया कि पार्टी में अच्छी छवि, योग्य और काम करने की क्षमता रखने वालों को ही टिकट दिया जाएगा. टिकट पर आम सहमति भी जरूरी है.

    उन्होंने कहा कि पार्टी में जहां कमियां हैं, उनको दूर करेंगे और एकजुट होकर लड़ाई लड़ी जाएगी. हिमाचल में सभी कांग्रेसी एक लक्ष्य के साथ पार्टी के लिए काम करेंगे. इस दौरान कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हर्ष महाजन, उपाध्यक्ष नरेश चौहान और महासचिव रजनीश किमटा भी आनंद शर्मा के साथ मौजूद रहे.

    Tags: Anand sharma, Himachal Congress, Shimla News

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें