शिमला नहीं आएंगी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, कहा-‘किसी ने शरारत’ की है
Shimla News in Hindi

शिमला नहीं आएंगी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, कहा-‘किसी ने शरारत’ की है
प्रियंका के स्थायी तौर पर रहने के लिए नई दिल्ली इलाके के दो-तीन जगहों पर किराए का घर देखा गया है.

मीडिया में खबरें चली थी कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) शिमला आने वाली हैं. उन्होंने इसके लिए जिला प्रशासन से अनुमति मांगी है. कहा गया कि उन्होंने कोविड-ई पास रजिस्ट्रेशन के तहत आवदेन किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 7, 2020, 3:09 PM IST
  • Share this:
शिमला. कांग्रेस (Congress) की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के शिमला आने की खबरों का उनके ऑफिस की ओर से खंडन किया गया है. उनके दफ्तर ने एक बयान (Statement) जारी कर कहा है कि वह शिमला नहीं आ रही हैं. उनकी ओर से शिमला (Shimla) आने की अनुमित नहीं मांगी गई है. उन्होंने केवल अपने बच्चों और कुछ करीबियों के लिए शिमला आने का आवेदन किया है. प्रियंका के दफ्तर की ओर से जारी बयान में कहा गया है ‘कुछ शरारत’ की गई है.

यह है मामला
दरअसल, मीडिया में खबरें चली थी कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) शिमला आने वाली हैं. उन्होंने इसके लिए जिला प्रशासन से अनुमति मांगी है. कहा गया कि उन्होंने कोविड-ई पास रजिस्ट्रेशन के तहत आवदेन किया है. आवेदन में प्रियंका और उनके बच्चों के अलावा कुल 12 नाम शामिल हैं. आवेदन में कुछ दस्तावेज अधूरे हैं, इसलिए अभी जिला प्रशासन ने अनुमति नहीं दी गई है. उनके साथ आने वाले सदस्यों में दिल्ली, गुरुग्राम, बेंगलुरु और नोएडा के उनके कुछ पारिवारिक मित्र शामिल हैं. आवेदन में 10 से 30 अगस्‍त तक शिमला रुकने की बात कही गई है. लेकिन अब इस खबर का खंडन किया गया है.

शिमला के छराबड़ा में प्रियंका गांधी का घर.

रिपोर्ट लानी होगी साथ


हिमाचल सरकार ने दिल्ली के सभी जिलों को कोविड के हेवी लोड वाली सूची में डाला गया है. ऐसे में प्रियंका करीबियों और बच्चों को कोविड नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट साथ लानी होगी. रिपोर्ट न होने पर नियमानुसार उन्हें संस्थागत क्वारंटीन होना पड़ सकता है. यदि रिपोर्ट लाएंगी तो होम क्वारंटीन में भेजा जाएगा. प्रियंका का घर शिमला से 13 किलोमीटर दूर छराबड़ा में है. यह समुद्र तल से 8 हजार फीट की ऊंचाई पर बना हुआ है. इस घर को पहाड़ी शैली में बनाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज