भत्ता मामला: कांग्रेस नेता सुक्खू बोले-जो MLA कह रहे हैं नहीं लेंगे भत्ता, वो वेतन भी छोड़ें

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: September 6, 2019, 12:18 PM IST
भत्ता मामला: कांग्रेस नेता सुक्खू बोले-जो MLA कह रहे हैं नहीं लेंगे भत्ता, वो वेतन भी छोड़ें
कांग्रेस विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू.

सुखविंद्र सिंह सुक्खू (Sukhwinder Singh Sukhu) ने यह भी कहा कि कुछ विधायक भत्ता (MLA Travel Allowance) न लेने की बात कह रहे हैं. उन विधायकों को अपना वेतन और सभी तरह के भत्ते भी छोड़ने चाहिए. क्योंकि इस भत्ते को 68 में से 60 विधायक ही लेते हैं.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल विधानसभा के मॉनसून सत्र के अंतिम दिन माननीयों ने सर्वसहमति से अपना यात्रा भत्ता (Travel Allowance) तो बढ़ा दिया, लेकिन अब यह माननीयों की गले में हड्डी की तरह फंस गया है. ना निगलते बन रहा है और न ही उगलते. मजबूरी में नेताओं को सफाई देनी पड़ रही है. कुछ विधायक तो यह भी कह चुके हैं कि वे बढ़ा हुआ यात्रा भत्ता नहीं लेंगे. मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने भी कह दिया कि अगर कोई भत्ता नहीं लेना चाहता है तो सरकार को लिखकर दें. सरकार बिल पर पुनर्विचार करेगी.

यह बोले सुक्खू
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और विधायक सुखविंद्र सिंह सुक्खू (Sukhwinder Singh) ने भी बयान दिया है. सुक्खू ने कहा कि जब बिल को सदन में लाया गया था उस पर मैंने भी चर्चा की थी. लेकिन न तो विधायकों का वेतन बढ़ा और न ही भत्ता. केवल यात्रा के लिए किया जाने वाले क्लेम की आउटर लिमिट बढ़ी है. लेकिन सोशल मीडिया में इस तरह से चर्चा हो रही है जैसे माननीयों के वेतन बढ़ गए हों.

सभी तरह के भत्ते भी छोड़ने चाहिए: सुक्खू

सुक्खू ने यह भी कहा कि कुछ विधायक भत्ता न लेने की बात कह रहे हैं. उन विधायकों को अपना वेतन और सभी तरह के भत्ते भी छोड़ने चाहिए. क्योंकि इस भत्ते को 68 में से 60 विधायक ही लेते हैं.

कौन हैं सुक्खू
बता दें कि सुखविंद्र सिंह सुक्खू कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रह चुके हैं. वह हमीरपुर जिले के नादौन से कांग्रेस विधायक हैं. वीरभद्र सिंह के साथ तनातनी को लेकर वह अक्सर सुर्खियों में रहे हैं. फिलहाल, अब कुलदीप सिंह राठौर कांग्रेस के अध्यक्ष हैं.
Loading...

साठ फीसदी बढ़ाया, चार लाख हुआ भत्ता
हिमाचल में 19 से 31 अगस्त तक मॉनसून सत्र में अंतिम दिन सरकार ने बिल पारित कर मंत्री और विधायकों का यात्रा भत्ता ढाई लाख से बढ़ाकर 4 लाख रुपये (Lakhs) सालाना किया था, जबकि पूर्व विधायकों का सवा लाख से बढ़ाकर दो लाख किया गया है. इसमें विदेश यात्रा भी शामिल है. इसके अलावा प्रदेश के बाहर टैक्सी बिलों का भुगतान भी इसी राशि से होगा.

ये भी पढें:….तो क्या यात्रा भत्ता बढ़ाने का फैसला वापस लेगी हिमाचल सरकार?

हिमाचल में पटवारियों के 1195 पदों पर भर्ती: 30 सितंबर तक करें आवेदन

वायरल दोनों अश्लील वीडियो मामले की जांच जारी, पुलिस ने 15 लोगों से की पूछताछ

…ताकि काम ना लटकें, नप नेरचौक में पार्षद खुद संभालेंगे कर्मियों का काम

VIDEO: स्कूली बच्चों से भरी गाड़ी नदी में छोड़ भागा चालक, लोगों ने निकाला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 6, 2019, 12:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...