COVID-19: रिज मैदान पर गांधी की मूर्ति के नीचे कांग्रेस अध्यक्ष राठौर ने दिया धरना

शिमला में रिज मैदान में धरना देते कांग्रेसी.

शिमला में रिज मैदान में धरना देते कांग्रेसी.

वैक्सीन को लेकर राठौर ने कहा कि पहले कहा गया कि 28 दिन बाद दूसरी डोज लगेगी और अब 14 हफ्तों की बात कही जा रही है, ये मजाक नहीं तो और क्या है?

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला (Shimla) में कोरोना कर्फ्यू के बीच कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ धरना दिया. ऐतिहासिक रिज मैदान पर महात्मा गांधी की मूर्ति के नीचे कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर समेत कुल 4 नेता धरने पर बैठे. कांग्रेस ने सरकार को कोरोना से निपटने में विफल करार दिया है. बढ़ते संक्रमण, टेस्टिंग, कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट के अलावा वैक्सीनेशन अभियान से लेकर अन्य तमाम मुद्दों पर सरकार को घेरा. इस दौरान काफी संख्या में पुलिसकर्मी भी नजर आए.

पहले कहीं और धरना देने की तैयारी

पहले जानकारी आई कि नाज चौक पर धरना दिया जाएगा, पुलिस वहां पर इंतजार करती रही और कांग्रेसी नेता रिज मैदान पर धरने पर बैठ गए.इस मौके पर प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि नियम कायदों को ध्यान में रखते हुए धरने पर बैठे हैं. उन्होंने कहा कि मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है. हर रोज अब 60 से 70 मौते हैं हो रही हैं. कोरोना ग्रामीण इलाकों तक फैल चुका है. उन्होंने कहा कि सरकार जनता की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी है, जनता को स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल रही हैं. टेस्ट देरी से हो रहे हैं और 10-10 दिन रिपोर्टों का इंतजार करना पड़ रहा है. टेस्टिंग के लिए मोबाइल की वैन की बात कही लेकिन वो भी कहीं नजर नहीं आ रही है.

वैक्सीन पर भी बोले राठौर
वैक्सीन को लेकर राठौर ने कहा कि पहले कहा गया कि 28 दिन बाद दूसरी डोज लगेगी और अब 14 हफ्तों की बात कही जा रही है, ये मजाक नहीं तो और क्या है? उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अखबारों में फर्जी खबरें चला कर सुर्खियां बटोर रही है जबकि जमीन पर हालात बेहद खराब हैं. सरकार अपनी नालायकी फर्जी खबरों के जरिए छुपा रही है, जबकि अस्पतालों में मरीजों और तीमारदारों की शिकायतें सुनने वाला कोई नहीं है. उन्होंने कहा कि जनता की आवाज को उठाना विपक्ष का काम है और इसी लिए कांग्रेस धरने पर बैठी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज