होम /न्यूज /हिमाचल प्रदेश /

हिमाचल सरकार के फैसले का विपक्ष ने किया विरोध, कहा-किराया बढ़ोतरी गलत

हिमाचल सरकार के फैसले का विपक्ष ने किया विरोध, कहा-किराया बढ़ोतरी गलत

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर.

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर.

बढ़ाए गए किराये को लेकर अंतिम मोहर 25 सितंबर को कैबिनेट बैठक में लगेगी.

    हिमाचल प्रदेश सरकार के बस किराया बढ़ोतरी के फैसले पर कांग्रेस पार्टी ने एतराज जताया है. प्रदेश कांग्रेस पार्टी किराया बढ़ाने की घटाने की मांग की है. कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने प्रेस वार्ता कर प्रदेश सरकार पर तालमेल की कमी का आरोप लगाया.

    कौल सिंह ने कहा कि परिवहन मंत्री गोबिंद ठाकुर किराये को लेकर अलग बयान दे रहे हैं, जबकि सीएम जयराम ठाकुर कुछ और बोल रहे हैं. प्रदेश सरकार में तालमेल की कमी साफ झलक रही है, जिसका खानियाजाना आम लोगों को भुतगना पड़ेगा.

    दरअसल, हिमाचल प्रदेश में निजी बस ऑपरेटर्स यूनियन के दबाव के चलते जयराम सरकार बस किराये में बढ़ोतरी करेगी. बुधवार को वन एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर और निजी बस ऑपरेटर्स यूनियन में मीटिंग हुई. हालांकि, बढ़ाए गए किराये को लेकर अंतिम मोहर 25 सितंबर को कैबिनेट बैठक में लगेगी.

    ये होंगी नई दरें
    परिवहन मंत्री के अनुसार, मैदानी क्षेत्र में बस किराया मौजूदा समय में 93 पैसे प्रति किलोमीटर है, इस अब बढ़ाकर 1 रुपये 12 पैसे किया जाएगा. वहीं, पहाड़ी क्षेत्रों में वर्तमान में 1.45 रुपये से बढ़ाकर 1.75 रुपये कर दिया जाएगा. वहीं, न्यूनतम किराया बढ़ाए जाने को लेकर मंत्री ने ऑपरेटर यूनियन को आश्वस्त किया है. इसको लेकर कैबिनेट की बैठक में ही निर्णय की बात मंत्री ने यूनियन नेताओं से कही है.

    Tags: Congress, Himachal pradesh, HRTC

    अगली ख़बर