Home /News /himachal-pradesh /

भारत-चीन झड़प: राजद्रोह केस के आरोपी पूर्व CPS नीरज भारती को 14 दिन के लिए जेल भेजा

भारत-चीन झड़प: राजद्रोह केस के आरोपी पूर्व CPS नीरज भारती को 14 दिन के लिए जेल भेजा

कांग्रेस के पूर्व सीपीएस नीरज भारती. (FILE PHOTO)

कांग्रेस के पूर्व सीपीएस नीरज भारती. (FILE PHOTO)

शिमला के अधिवक्ता गुलेरिया ने शिकायत में आरोप लगाया था कि भारती ने सोशल मीडिया में जो संदेश डाले हैं उनके माध्यम से उन्होंने सरकार के खिलाफ घृणा, तिरस्कार, अवमानना का दुष्प्रचार करके देश के नागरिकों में देशद्रोह को फैलाने की कोशिश की है.

अधिक पढ़ें ...
शिमला. अक्सर अपने बयानों और सोशल मीडिया (Social Media) पर पोस्ट डालने को लेकर विवादों में रहने वाले कांग्रेस पूर्व विधायक और सीपीएस नीरज भारती (Neeraj Bharti) को तीन दिन का रिमांड खत्म होने के बाद मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया. यहां से कोर्ट ने भारती को अब न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. राजद्रोह का आरोप झेल रहे नीरज भारती को सीआईडी (CID) ने बीते शुक्रवार शाम को गिरफ्तार (Arrest) किया था. शनिवार को कोर्ट में पेश करने के बाद भारती को तीन दिन के रिमांड पर भेजा गया था. अब

आज ही जमानत पर सुनवाई
मंगलवार को जिला कोर्ट में एडिशनल सीनियर जज सिदार्थ सरपाल की कोर्ट ने भारती को 14 दिन के लिए जेल भेज दिया है. वहीं, मंगलवार को 2 बजे नीरज भारती की जमानत अर्जी पर भी सुनवाई होगी.

फौजियों पर भी की थी टिप्पणी
शिमला के अधिवक्ता गुलेरिया ने शिकायत में आरोप लगाया था कि भारती ने सोशल मीडिया में जो संदेश डाले हैं उनके माध्यम से उन्होंने सरकार के खिलाफ घृणा, तिरस्कार, अवमानना का दुष्प्रचार करके देश के नागरिकों में देशद्रोह को फैलाने की कोशिश की है. साथ ही फौजी जवानों के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणियों द्वारा दुष्प्रचार करके आम लोगों व सैनिकों को सरकार के विरूद्ध भड़काने एवं अपनी ड्यूटी न करने के लिए उकसाया है.

सीआईडी ने किया था केस दर्ज
गुलेरिया की शिकायत पर सीआईडी ने भराड़ी थाना में भारती के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124-ए, 153-ए, 504 व 505 के अंतर्गत मामला दर्ज किया है. शुक्रवार देर शाम सीआईडी ने मामले में नीरज भारती को गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में पुलिस लगातार दो दिन से नीरज भारती से पूछताछ कर रही थी. बता दें कि भारती सोशल मीडिया पर अक्सर अमर्यादित टिप्पणियां करते रहते हैं. वहीं, कांग्रेस की वीरभद्र सरकार में ज्वाली से विधायक और सीपीएस रहे हैं. उनके पिता कांगड़ा से सांसद रह चुके हैं.

Tags: Congress, Indo-China Border Dispute, Modi government

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर