COVID-19: हिमाचल में कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू, स्वास्थ्य मंत्री बोले-लोग नहीं मान रहे नियम
Shimla News in Hindi

COVID-19: हिमाचल में कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू, स्वास्थ्य मंत्री बोले-लोग नहीं मान रहे नियम
हिमाचल में कोरोना वायरस. (सांकेतिक तस्वीर)

Corona Community Spread in Himachal: कोरोना के बढ़ते मामले पर सीएम जयराम ठाकुर ने भी कहा कि कोरोना पीक की तरफ जा रहा है, इसलिए अब और ज्यादा सावधानी बरतनें की जरूरत है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के लिए चिंता की खबर है. कोरोना का कम्युनिटी ट्रांसमिशन शुरू हो गया है. अभी पहले चरण में कम्युनिटी स्प्रेड है. यह पहला मौका है, जब सरकार ने माना कि प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले कम्युनिटी ट्रांसमिशन (Community Transmission) का परिणाम है. स्वास्थ्य मंत्री डा राजीव सैजल (Rajeev Sejal) ने न्यूज 18 के साथ बातचीत में इस बात का खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि आज दिन प्रदेश में कुल कन्फर्म मामले 8169 हो गए हैं, जबकि एक्टिव केस 2473 और ठीक हुए 5 हजार 622, जबकि 61 लोगों की मौत हो चुकी हैं.

क्या बोले सैजल

स्वास्थ्य मंत्री डा राजीव सैजल ने कहा कि हर रोज बड़ी संख्या में मामले आ रहे हैं. यह इस बात का लक्षण है कि प्रदेश में कम्युनिटी स्प्रेड हो गया है. हालांकि इसके पीछे स्वास्थ्य मंत्री ने तर्क दिया कि लोग सोशल डिस्टेसिंग सहित मॉस्क न पहनने और हाथ न धोने के नियमों की पालना नहीं कर रहे हैं, जिसको लेकर लोगों को अब ज्यादा जागरूक होना होगा.



तीन बातों का ख्याल रखें- स्वास्थ्य मंत्री
डा राजीव सैजल ने यह भी कहा कि लोग तीन बातों का हमेशा ध्यान रखें. घर से बाहर मॉस्क पहनकर निकलना, बार-बार हाथों को धोना और सेनिटाइज करना. साथ ही सोशल डिस्टेसिंग का विशेष ध्यान रखें. उन्होंने कहा कि एक बार ऐसा भी दौर आया था जब प्रदेश में कोरोना के मामले नगण्य हो गए हैं. लेकिन जैसे ही गतिविधियां बढ़ी। वैसे ही केस भी बढ़ने शुरू हो गए हैं. जो लोग पहले सख्ती से जरूरी एहितयात बरत रहे थे, अब और सख्ती बरतने की जरूरत है. खासतौर पर बच्चों, बुजुर्गों की ज्यादा ध्यान रखनी होगी. स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी कहा कि प्रदेश में कोरोना के ज्यादातर मामले गैर लक्षण वाले हैं. ऐसे में उनसे भी खतरा इसलिए है क्योंकि उन्हें कोरोना बेशक प्रभावित न करें बल्कि दूसरे व्यक्ति को कोरोना संक्रमित कर देता है.



विधानसभा सत्र पर अभी फैसला नहीं 

स्वास्थ्य मंत्री डा राजीव सैजल से जब यह जानना चाहा कि अगर कम्युनिटी स्प्रेड हो गया है तो क्या विधानसभा की बैठकें कम करने पर स्वास्थ्य विभाग सुझाव देगा, तो उन्होंने कहा कि इस पर अभी फैसला नहीं हुआ है. फिलहाल गंभीर स्थिति नहीं है। अगर ऐसा कोई निर्णय होगा भी तो वो काफी विचार-विमर्श से होगा। पूरे आंकलन के बाद ही ऐसा निर्णय लिया जा सकता है, लेकिन अभी ऐसी कोई बात विचाराधीन नहीं है.

सीएम ने माना, कोरोना पीक की तरफ बढ़ रहा 

कोरोना के बढ़ते मामले पर सीएम जयराम ठाकुर ने भी कहा कि कोरोना पीक की तरफ जा रहा है, इसलिए अब और ज्यादा सावधानी बरतनें की जरूरत है. लॉकडाउन के समय लोगों ने सजग और सावधानी बरती लेकिन जब अनलॉक हुआ तो धीरे-धीरे लापरवाही बढ़ती गई, जहां गंभीर होने की जरूरत थी. लेकिन सरकार कोरोना को हैंडल करने में पूरी तरह सक्षम है. लोग भी अब ज्यादा सावधानी बरतें. फिर भी हर परिस्थिति से निपटने के लिए और ज्यादा तैयारियां करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज