हिमाचल में वैक्सीन का टोटा: तीन हफ्ते की देरी से शुरू होगा तीसरा चरण, 31 लाख लोगों को करना होगा इंतजार

वैक्सीन (प्रतीकात्मक तस्वीर)

वैक्सीन (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Corona Vaccination Drive in Himachal: पहली मई से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो गई है जिसमें 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लाभार्थी विभाग के पोर्टल पर खुद को दर्ज करवा सकते हैं.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में अब मई के अंतिम सप्ताह तक कोविड वैक्सीनेशन (COVID Vaccinations) का तीसरा चरण शुरू हो पाएगा . सरकार ने कहा है कि फिलहाल, कोविड वैक्सीन की 73 लाख डोज का ऑर्डर सीरम इंस्टीट्यूट को दिया गया है. उसे पहुंचने में कम से कम इतना समय लगेगा. फिलहाल, नई खेप आने तक 45 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को ही टीका लगाया जाएगा. ऐसी परिस्थिति में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को अपनी वैक्सीनेशन के लिए इंतजार और करना पड़ेगा.

प्रदेश भर के युवाओं को तीसरे फेस में वैक्सीनेशन प्री-रजिस्ट्रेशन के आधार पर ही होगा . रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरु हो गई है.रजिस्ट्रेशन के लिए कोविन ई पोर्टल और आरोग्य सेतु एप्प पर की जा रही है. हालांकि रजिस्ट्रेशन करने के बाद पोर्टल पर न तो अभी तारीख दर्शाई जा रही है और न जगह दर्शाई जा रही है. कोरोना वैक्सिनेशन के लिए इस बार पहले दो चरणों की तरह वॉक-इन-वैक्सीनेशन का प्रावधान नहीं रहेगा. स्वास्थ्य विभाग वैक्सीन मिलने का इंतजार कर रहा है.हालांकि रजिस्ट्रेशन का काम 28 अप्रैल शाम चार बजे से शुरू हो चुका है. तीसरा चरण पहले दो चरणों से कुछ अलग होने वाला है. तीसरे चरण में केवल पहले से रजिस्ट्रेशन करवाने वालों का ही वैक्सीनेशन कहोगा.

क्या बोले सीएम जयराम

सीएम ने कहा कि अब तक 16 लाख से ज्यादा लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है. फिलहाल हिमाचल के पास 2.55 लाख वैक्सीन डोज बची हैं. एक मई से 18 वर्ष से उपर के लोगों को वैक्सीन लगाए जाने के अभियान को लेकर सीएम ने कहा कि इसको लेकर पंजीकरण हो रहा है लेकिन इस अभियान के शुरू होने में देरी होगी. जानकारी के अनुसार राज्य सरकार के पास वैक्सीन नहीं है. अभियान शुरू करने के लिए राज्य सरकार ने केंद्र के सामने मांग रखी है.
क्या कहते हैं अधिकारी

सीएमओ शिमला डॉ सुरेखा चोपड़ा ने बताया कि पहली मई से शुरू होने वाले वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण प्रक्रिया तो शुरू हो गई है जिसमें 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लाभार्थी विभाग को पोर्टल पर खुद को दर्ज करवा सकते हैं. लेकिन अभी जिला में कोरोना वैक्सीन की खेप नहीं पहुंची है. ऐसे में पहली मई से शुरू होने वाले चरण में कुछ विलंब हो सकता है और पंजीकृत लोगों को वैक्सीन उपलब्ध होते ही इसकी जानकारी दे दी जाएगी. उन्होंने बताया कि वैक्सिनेशन के लिए 4 सप्ताह का समय लगेगा, तब तक 18 साल से ज्यादा उम्र के युवा कोविन एप्प पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.उन्होंने बताया कि अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि एक दिन में कितने युवाओं को कोरोना का टीका लगाया जा सकता है. इस पर अभी तक कोई जानकारी नहीं मिल पाई है.

शिमला में 18 से 44 साल तक 6 लाख लोग



जिला शिमला में करीब 6 लाख युवा 18 से 44 साल तक हैं, जो अपना रजिस्ट्रेशन करवा रहे हैं.वैक्सीन लगाने के लिए विभाग की ओर से जो देता आएगा उसके बाद ही यह सुनिश्चित किया जाएगा कि एक दिन में कितने लोगों को टीका लगाया जाएगा.अभी इस मेगा वैक्सिनेशन ड्राइव के लिए वैक्सिनेशन भी उपलब्ध नहीं है जिसके लिए केंद्र से स्टॉक मंगवाया जाएगा. सूबे में शुरू से लेकर अब तक 15 लाख लोगों को वैक्सीन लग पाई है. हिमाचल की आबादी में सिर्फ 20 फीसद लोगों का वैक्सीनेशन हो पाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज