COVID-19: हिमाचल की 20% आबादी को लगी कोरोना वैक्सीन, देरी से शुरू होगा तीसरा चरण

 एक मई से कोरोना टीकाकरण का तीसरा चरण (फाइल फोटो)

एक मई से कोरोना टीकाकरण का तीसरा चरण (फाइल फोटो)

Corona vaccination in Himachal: सप्लाई ना होने की वजह से राज्य के सरकारी कोविड टीकाकरण केन्द्रों पर टीकाकरण का तीसरा चरण देरी से शुरू होगा.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में अभी तक 20 प्रतिशत जनसंख्या का कोविड-19 (COVID-19) के लिए टीकाकरण (Vaccinations) किया जा चुका है और इस दिशा में हिमाचल देश के अग्रणी राज्यों में शामिल है. 27 अप्रैल, 2021 तक 14,12,978 लोगों को कोविड की 16,22,438 खुराकें दी गई हैं, जिनमें दो लाख से अधिक वे व्यक्ति भी शामिल हैं, जिन्होंने दूसरी खुराक भी ले ली है.

फ्री लगेगा टीका

स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार ने अब 18 से 44 वर्ष की आयु वर्ग के लोगों का भी सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में निःशुल्क टीकाकरण करने का फैसला किया है. इस आयु वर्ग के लोगों का पंजीकरण कार्य कोविन पोर्टल पर आरम्भ कर दिया गया है और अब आरोग्य सेतु ऐप पर भी यह सुविधा प्राप्त की जा सकती है. पात्र व्यक्ति इस पोर्टल पर टीकाकरण के लिए अपना पंजीकरण करवा सकते हैं.

18 से 45 वर्ष की आयु के 31 लाख लोग
प्रवक्ता ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में 18 से 45 वर्ष की आयु के लगभग 31 लाख लोग टीकाकरण के लिए पात्र हैं. इन लोगों को सरकारी कोविड टीकाकरण केन्द्रों पर टीका लगाने के लिए राज्य ने सीरम इन्सटीच्यूट आॅफ इण्डिया से कोविड की 73 लाख खुराकें चरणबद्ध तरीके से खरीदने के लिए मांग पहले ही भेज दी है. दवा निर्मात कम्पनी ने सूचित किया है कि आपूर्ति तीन-चार सप्ताह में आरम्भ हो जाएगी और इसके उपरान्त राज्य के सरकारी कोविड टीकाकरण केन्द्रों पर टीकाकरण का तीसरा चरण आरम्भ कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि टीकाकरण के तीसरे चरण के लिए निजी स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं और औद्योगिक संस्थानों के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. वे इस सन्दर्भ में सम्बन्धित जिला के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों से सम्पर्क कर सकते हैं.

टीकाकरण की अपील

प्रवक्ता ने कहा कि कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों से तीसरे चरण में टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक संख्या में आगे आने की मांग की गई है. उन्होंने स्पष्ट किया कि सरकारी कोविड टीकाकरण केन्द्रों पर टीकाकरण का कार्य वैक्सीन की आपूर्ति होने के उपरान्त ही आरम्भ किया जाएगा. इस सन्दर्भ में समय-समय पर लोगों को जानकारी प्रदान की जाएगी. पात्र व्यक्ति अगर चाहें तो निजी टीकाकरण केन्द्रों पर भी निर्धारित शुल्क जमा करवाकर टीका लगा सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज