हिमाचल में ग्रामीणों इलाकों में 18-44 साल के लोगों को बिना स्लॉट बुकिंग के लगेगी वैक्सीन

प्रशासन और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने शुरू की तैयारी.

Corona Vaccination in Himachal: श्रेणी-बी 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लाभार्थियों के लिए तैयार की गई रणनीति के अन्तर्गत ग्रामीण, जनजातीय व दुर्गम क्षेत्रों में ऑन-स्पाट पंजीकरण की सुविधा, जबकि शहरी क्षेत्रों जैसे नगर निगम, एनएसी व नगर परिषद आदि क्षत्रों में ऑनलाइन स्लाट बुकिंग के माध्यम से टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगे.

  • Share this:
    शिमला. हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग (Health Department) के प्रवक्ता ने कहा कि 18-44 वर्ष के आयु वर्ग के टीकाकरण के संबंध में भारत सरकार ने संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए हैं, जो 21 जून, 2021 से प्रभावी होंगे. अब ग्रामीण इलाकों में मौके पर ही बुकिंग होगी. उन्होंने कहा कि नए टीकाकरण अभियान के अन्तर्गत प्रदेश को कोविशिल्ड की 2.5 लाख खुराक की आपूर्ति की जा रही है. कोविड-19 टीकाकरण अभियान के सुचारू संचालन और टीकाकरण रणनीति के संबंध में स्वास्थ्य सचिव द्वारा सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों व जिला टीकाकरण (Vaccination) अधिकारियों के साथ वीडियो काॅन्फ्रैस के माध्यम से चर्चा कर दिशा-निर्देश जारी किए हैं.

    सरकार ने बदले नियम
    प्रवक्ता ने कहा कि 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी पात्र लाभार्थियों के टीकाकरण के लिए जून, 2021 माह के लिए भारत सरकार की ओर से मिलने वाली वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर जिलों के लिए नई टीकाकरण रणनीति तैयार की गई है, जिसके अन्तर्गत लक्षित लाभार्थियों को दो श्रेणियों में बांटा गया है. उन्होंने कहा कि श्रेणी-ए के लिए पहली खुराक के लिए 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के सभी लाभार्थी, 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के कोविशील्ड की दूसरी खुराक के लिए सभी पात्र लाभार्थी, भारत सरकार द्वारा नामित सभी स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता, सभी अग्रिम पंक्ति कार्यकर्ता व राज्य सरकार द्वारा अधिसूचित सभी प्राथमिकता समूहों के पात्र लाभार्थी, जिन्हें टीकाकरण की पहली व दूसरी खुराक लगाई जानी है को शामिल किया गया है, जबकि 18-44 वर्ष के आयु वर्ग के लाभार्थी जो उपरोक्त श्रेणी में शामिल नहीं हैं, को श्रेणी-बी में रखा गया है.

    प्रवक्ता ने कहा कि राज्य में 21 जून से 30 जून, 2021 तक दोनों श्रेणियों के लाभार्थियों का टीकाकरण करने के लिए प्रभावी रणनीति बनाई गई है, ताकि दोनों श्रेणियों के लाभार्थियों का टीकाकरण अलग-अलग किया जा सके. दोनों श्रेणिायों के लाभार्थियों के टीकाकरण के लिए दिन निर्धारित किए गए है, जिसके अनुसार श्रेणी-ए के लाभार्थियों के लिए गुरुवार, शुक्रवार व शनिवार के दिन टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगेस जबकि श्रेणी-बी के लाभार्थियों के लिए सोमवार, मंगलवार व बुधवार को टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगे और रविवार के दिन टीकाकरण के लिए कोई सत्र आयोजित नहीं होगा.

    इन इलाकों के लिए बनी रणनीति
    उन्होंने कहा कि श्रेणी-बी 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लाभार्थियों के लिए तैयार की गई रणनीति के अन्तर्गत ग्रामीण, जनजातीय व दुर्गम क्षेत्रों में ऑन-स्पाट पंजीकरण की सुविधा, जबकि शहरी क्षेत्रों जैसे नगर निगम, एनएसी व नगर परिषद आदि क्षत्रों में ऑनलाइन स्लाट बुकिंग के माध्यम से टीकाकरण सत्र आयोजित किए जाएंगे. शहरी क्षेत्रों में टीकाकरण के लिए सभी ऑनलाइन सत्र टीकाकरण की तिथि से एक दिन पूर्व दोपहर 12 से 1 बजे के बीच प्रदर्शित किए जाएंगे. प्रवक्ता ने कहा कि पिछले निर्देशों के अनुसार 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग और अन्य श्रेणियों जैसे स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता, अग्रिम पंकित कार्यकर्ता और प्राथमिकता वाले समूहों के लाभार्थियों के टीकाकरण के लिए पहली खुराक की समय सीमा 30 जून, 2021 तक बढ़ाई गई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.