अपना शहर चुनें

States

हिमाचल में आज पहुंचेगी कोरोना वैक्सीन के 93 हजार डोज, 40 हजार फ्रंटलाइनर को लगेगा टीका

हिमाचल में गुरुवार को पहुंचेगी कोरोना वैक्सीन.
हिमाचल में गुरुवार को पहुंचेगी कोरोना वैक्सीन.

Corona Vaccine in Himachal: पहले फेज में कुल 75 हजार फ्रंट लाइन वर्कर को टीकाकरण की योजना है, जो 93 हजार डोज आई हैं, उनसे 40 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा

  • Share this:
शिमला. लंबे इंतजार के बाद आखिर हिमाचल में भी कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) पहुंच रही है. गुरुवार दोपहर बाद हिमाचल में सीरम इंस्टिट्यूट पुणे की कोविशील्ड वैक्सीन की 93 हजार डोज हिमाचल पहुंचेगी. शिमला में चंडीगढ़ से वाया रोड वैक्सीन पहुंचेगी. नेशनल हेल्थ मिशन (National Health Mission) के एमडी डॉ. निपुन जिंदल ने बताया कि पुणे से हवाई जहाज में वैक्सीन चंडीगढ़ तक आएंगी. वहां से हिमाचल में वाया रोड तीन रीजनल वैक्सीन स्टोर तक पहुंचाई जाएंगी. शिमला (Shimla), धर्मशाला और मंडी को रीजनल वैक्सीन स्टोर बनाया गया है. इन स्टोर से प्रदेश के सभी जिलों में वैक्सीन पहुंचाई जाएगी.

अलग-अलग साइट पर भेजेंगे

शिमला से सिरमौर, सोलन, किन्नौर जिले के अलावा स्पीति में बनाए गई साइट के लिए भी वैक्सीन भेजी जाएगी. मंडी से कुल्लू, लाहौल-स्पीति और बिलासपुर को वैक्सीन भेजी जाएगी, जबकि कांगड़ा से बचे हुए जिलों में वैक्सीन भेजी जाएगी. सभी जिलों में 15 जनवरी तक वैक्सीन पहुंच जाएगी. प्रदेशभर में 46 वैक्सीन साइट्स बनाई गई हैं. इन साइट्स पर उसी तरह से टीकाकरण किया जाएगा, जिस तरह से ड्राई रन किया गया था. डॉ. निपुन ने बताया कि हर वैक्सीन साइट पर टीकाकरण के लिए 5 सदस्यीय टीम तैनात रहेगी. इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी और कर्मचारी भी मौजूद रहेंगे.




इन्हें लगेगा पहेला टीका

पहले फेज में कुल 75 हजार फ्रंट लाइन वर्कर को टीकाकरण की योजना है, जो 93 हजार डोज आई हैं, उनसे 40 हजार स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा. केंद्र सरकार के निर्देशों, एसओपी और तय प्रोटोकॉल के तहत 16 जनवरी से टीकाकरण की शुरू किया जाएगा. बड़े अस्पतालों में हर रोज 100,जोनल अस्पतालों में 80 और सीएसी,पीएचसी में हर रोज 50 लोगों को टीका लगाया जाएगा. पहली डोज देने के 28 दिन बाद दूसरी डोज लगाई जाएगी. उन्होंने कहा कि वैक्सीन को लेकर घबराने की कोई जरूरत नहीं है, इधर-उधर की अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है. वैज्ञानिकों और डॉक्टरों ने कड़ी मेहनत से इसे बनाया है.

ये बोले मंत्री
कोरोना वैक्सीन के प्रदेश में आने पर हर कोई उत्साहित नजर आ रहा है. सरकार संतोष जता रही है और विपक्ष के सवालों पर निशाना भी साधा जा रहा है. विपक्ष भी इशारों ही इशारों में सरकार को घेरने की तैयारी कर रही है. कैबिनेट मंत्री रामलाल मारकंडा ने कहा कि टीकाकरण के लिए प्रदेशभर में तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. इस संबंध में सीएम ने सभी जिलाधीशों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के माध्यम से बात की है और तैयारियों को पुख्ता किया है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में ये भारत का ऐतिहासिक कदम है. दुनिया के तमाम विकसित देश टीका नहीं बना पाए लेकिन भारत ने अपने वैज्ञानिकों और डॉक्टरों के दम पर कर दिखाया है. विपक्ष के सवालों पर उन्होंने कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं बचा है.

कांग्रेस चीफ ये बोले
कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने वैक्सीन का स्वागत किया और कहा कि इससे लोगों में असुरक्षा की भावना खत्म होगी. फ्रंट लाइन वर्कर को पहले टीका लगाने का स्वागत किया. साथ ही कहा कि दुनिया के कई बड़े नेताओं और राष्ट्राध्यक्ष वैक्सीन लगा चुके हैं. ऐसे में प्रधानमंत्री समेत प्रदेश के सीएम और सभी मंत्रियों को टीका लगाना चाहिए क्योंकि वे सभी कोरोना वॉरियर हैं और सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रही है.

आम जनता ने किया स्वागत
आम जनता ने वैक्सीन आने पर खुशी जताई है. शिमला के मजदूरों का कहना है कि वैक्सीन आने से काफी राहत महसूस हो रही है. उनका कहना है कि कोरोना के चलते उनके काम पर असर पड़ा. अब उम्मीद की किरण नजर आ रही है. अन्य लोगों ने टीके का स्वागत किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज