• Home
  • »
  • News
  • »
  • himachal-pradesh
  • »
  • हिमाचल में कोरोना, ब्लैक फंगस के बाद स्क्रब टाइफस की मार, IGMC में 4 मामले आए

हिमाचल में कोरोना, ब्लैक फंगस के बाद स्क्रब टाइफस की मार, IGMC में 4 मामले आए

शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में स्क्रब टाइफस के चार मामले सामने आए हैं.

शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में स्क्रब टाइफस के चार मामले सामने आए हैं.

Scrub Typhus in Himachal: स्क्रब टायफस ज्वर खतरनाक जीवाणु जो रिकटेशिया (संक्रमित माइट, पिस्सू) के काटने से फैलता है. इसके लक्षण नजर आते ही और मरीज को लगातार बुखार आने पर तुरंत चिकित्सक को दिखाएं. इस बुखार को हल्के में बिल्कुल भी न लें.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस, ब्लैक फंगस के बाद अब स्क्रब टाइफस ने दस्तक दी है.बरसात के मौसम में एक बार फिर बरसाती संक्रमण का खतरा बढ़ गया है. चार लोगों की स्क्रब टायफस रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. बताया जा रहा है कि आईजीएमसी में 84 लोगों की स्क्रब को लेकर जांच की गई थी और 4 पॉजिटिव हैं.

IGMC के वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ. जनक राज ने मामलों की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि बरसात के मौसम में हरे घास में पनपने वाले पिस्सू के काटने से व्यक्ति को स्क्रब टायफस होता है. उसकी त्वचा पर लाल दाग होने के साथ मरीज को तेज बुखार आता है. 102 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा बुखार आने के बाद उसकी हालत काफी खराब हो जाती है और टेस्ट के दौरान ही मालूम होता है कि व्यक्ति स्क्रब टायफस से ग्रसित है.

बरसात में बरतें सावधानी, संक्रमण फैलने की रहती है आशंका
डॉक्टर्स ने विशेष तौर पर यह हिदायत बागवानी और ग्रामीण महिलाओं को जारी की है कि हरे घास के संपर्क में आने से पहले अपने हाथ में गलब्स पहन ले या घर आने के बाद अपने हाथ को साबुन के साथ पानी से धोएं. इस बारे में आईजीएमसी एमएस डॉक्टर जनकराज का कहना है कि अस्पताल में स्क्रब टायफस के लिए के टेस्ट में 4 लोगों में यह बीमारी आई है.

बरसात में पानी उबालकर पीने का आग्रह
उन्होंने बरसात में पानी उबालकर पीने का आग्रह किया है. साथ ही अपने आस पास साफ़-सफाई रखने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि स्क्रब टायफस की चपेट में आने वाले मरीजों के लिए अस्पताल में पर्याप्त मात्रा में दवा उपलब्ध है .स्क्रब टायफस ज्वर खतरनाक जीवाणु जिसे रिकटेशिया (संक्रमित माइट, पिस्सू) के काटने से फैलता है. इसके लक्षण होने पर मरीज को लगातार बुखार आने पर तुरंत चिकित्सक को दिखाएं और बुखार को हलके में न लें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज