कोरोना से ठीक होने के बाद HC बार काउंसिल के प्रेसिडेंट रमाकांत शर्मा का निधन

रमाकांत शर्मा ने वर्ष 1988 में वकालत शुरू की थी.

Coronavirus in Himachal: हिमाचल प्रदेश में अब तक 3165 मौतें हुई हैं. फिलहाल, एक्टिव केस घट रहे हैं और मौत का आंकड़ा भी कम हुआ है. प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 191251 पहुंच गया है. इनमें से अब तक 175657 संक्रमित ठीक हो चुके हैं.

  • Share this:
    शिमला. कोरोना वायरस (Corona Virus) से ठीक होने के बाद हिमाचल प्रदेश बार काउंसिल ऑफ हाईकोर्ट के प्रेसीडेंट रमाकांत शर्मा की मौत हो गई है. वह कोविड नेगेटिव आ चुके थे, लेकिन लंग्स (Lungus) को भारी नुकसान पहुंचने के कारण उनकी मौत हुई है.

    जानकारी के अनुसार, शिमला के IGMC में रमाकांत शर्मा भर्ती थी. रमाकांत शर्मा 55 वर्ष के थे और कुछ दिनों से अस्वस्थ थे. सोलन जिले के नालागढ़ से संबंध रखने वाले रमाकांत शर्मा ने वर्ष 1988 में वकालत शुरू की थी. चार बार प्रदेश बार काउंसिल के अध्यक्ष चुने गए थे.

    कब-कब बने अध्यक्ष
    वरिष्ठ अधिवक्ता रमाकांत शर्मा को सबसे पहले उन्हें 12 जनवरी 2006 को अध्यक्ष के पद के लिए चुना गया था. वे इस पद पर 1 मार्च 2008 तक रहे. दूसरी बार उन्हें 2 मार्च 2008 को इस पद पर फिर से चुना गया और वे इस पद पर 12 सितंबर 2009 तक रहे. तीसरी बार 7 अगस्त 2018 को उन्हें अध्यक्ष चुना गया और 16 अक्टूबर 2020 वह अध्यक्ष रहे. चौथी बार इन्हें 17 अक्टूबर 2020 को इस पद के लिए सर्व सम्मति से चुना गया. रमाकांत शर्मा की आकस्मिक मृत्यु से बार काउंसिल के सदस्यों में शोक की लहर है.

    अब तक कितने लोगों की गई जान
    हिमाचल प्रदेश में अब तक 3165 मौतें हुई हैं. फिलहाल, एक्टिव केस घट रहे हैं और मौत का आंकड़ा भी कम हुआ है. प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 191251 पहुंच गया है. इनमें से अब तक 175657 संक्रमित ठीक हो चुके हैं. सक्रिय कोरोना मामले घटकर 12407 रह गए हैं.