COVID-19: हिमाचल कैबिनेट का फैसला, 10वीं कक्षा के 1.5 लाख बच्चे किए गए प्रमोट

हिमाचल में दसवीं के बच्चे प्रमोट किए गए हैं.

हिमाचल में दसवीं के बच्चे प्रमोट किए गए हैं.

Corona virus in Himachal: फिलहाल, अभी 10 मई तक स्कूल कॉलेज और विश्वविद्यालय बंद किए गए थे. लेकिन अब 31 मई तक हिमाचल में शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे. प्रदेश में 6 मई रात 12:00 बजे से कोरोना कर्फ्यू लगेगा.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल प्रदेश सरकार (Himachal Government) ने राज्य स्कूल शिक्षा बोर्ड के दसवीं कक्षा (10 Class) के करीब डेढ़ लाख विद्यार्थियों को प्रमोट करने का फैसला लिया है. सीबीएसई (CBSE) के मॉडल के आधार पर अंक तय कर विद्यार्थियों को प्रमोट किया जाएगा. प्रदेश में शिक्षण संस्थान आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे.

सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट मीटिंग में यह फैसला हुआ है. बता दें कि कोरोना वायरस के चलते 10वीं के कुछ पेपर ही आयोजित हुए थे. इसके बाद सरकार ने एग्जाम स्थगित कर दिए थे. अब बच्चों को प्रमोट कर दिया गया है.

क्या रहेगा पैमाना

हिमाचल प्रदेश में 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों को फर्स्ट और सेकेंड टर्म की आंतरिक और प्री बोर्ड परीक्षाओं के अंकों के आधार पर प्रमोट किया जाएगा. विद्यार्थियों को प्रमोट करने के लिए सीबीएसई का पैटर्न अभी फाइनल नहीं हुआ है. सीबीएसई ने स्कूलों से वर्ष भर हुए असाइनमेंट और प्रोजेक्ट वर्क की जानकारी मांगी है. इसके आधार पर स्टूडेंट्स प्रमोट होंगे. अब तक 12वीं क्लास को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है. भविष्य में इनके बारे में फैसला संभव है.
स्कूल 31 मई तक बंद

फिलहाल, अभी 10 मई तक स्कूल कॉलेज और विश्वविद्यालय बंद किए गए थे. लेकिन अब 31 मई तक हिमाचल में शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे. प्रदेश में 6 मई रात 12:00 बजे से कोरोना कर्फ्यू लगेगा. इसी के साथ ही धारा 144 लागू कर दी जाएगी. 16 मई तक सरकारी दफ्तर भी हिमाचल में बंद रहेंगे. कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम करेंगे और बाजार में केवल जरूरी सामान की दुकानें खुली रहेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज