अपना शहर चुनें

States

दूसरे राज्यों के लोगों के लिए हिमाचल के बॉर्डर खोलने पर बिगड़ी कोरोना की स्थिति: कांग्रेस

हिमाचल कांग्रेस के अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर. (FILE PHOTO)
हिमाचल कांग्रेस के अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर. (FILE PHOTO)

Corona Virus in Himachal: बता दें कि अब सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते सूबे में राजनीतिक कार्यक्रमों और रैलियों पर रोक लगा दी है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में कोरोना (Corona Virus) के बढ़ते प्रकोप के चलते जयराम कैबिनेट ने कुछ फ़ैसले लिए है और चार जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है. कैबिनेट (Cabinet) के फैसलों पर विपक्ष ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह रोल बेक गवर्नमेंट है. जयराम सरकार अपने ही लिए गलत फैसलों के विफल होने पर वापस लेती है.

सरकार अपने फैसलों पर अडिग रहे

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर ने करोना पर नियंत्रण पाने के लिए मंत्रिमंडल में लिए सख्त फैसलों का स्वागत किया और कहा कि सरकार अपने फैसलों पर अडिग रहे तो विपक्ष सरकार के साथ खड़ा है. लेकिन सरकार विपक्ष के सुझाव की अनदेखी कर रही हैं. जबकि विपक्ष, सरकार को कई मुद्दों पर अपना सुझाव दे चुका है.



बिना तैयारियों के खोले स्कूल
कुलदीप राठौर ने कहा कि प्रदेश के शिक्षण संस्थानों को सरकार ने बिना सुरक्षा तैयारियों के खोल दिया था, जिसके चलते छात्र और शिक्षक कोरोना संक्रमित हुए अब सरकार ने एक बार फिर 31 दिसंबर तक शिक्षण संस्थान बंद किए हैं. विपक्ष उसका स्वागत करता है, कुलदीप राठौर ने कहा कि कोरोना की बिगड़ती स्थिति के लिए प्रदेश की जय राम सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार है. जयराम सरकार के कई फैसले लोगों की जिंदगियों पर भारी पड़ रहे हैं.



बॉर्डर खोलना पड़ा भारी

कुलदीप राठौर ने कहा कि राज्य की सीमाएं बाहरी राज्यों के लोगों के लिए खोलने पर प्रदेश में कोरोना की स्थिति बिगड़ी है. बसों में सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल भी ख्याल नहीं रखा जा रहा है. प्रदेश सरकार जनसभा करके कोरोना की स्थिति को और बिगाड़ने मैं अपनी अपना योगदान दे रही है. बता दें कि अब सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते सूबे में राजनीतिक कार्यक्रमों और रैलियों पर रोक लगा दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज