COVID-19: हिमाचल में कोविड मरीज बढ़े तो मंदिर-मस्जिद और गुरुद्वारों में होगा इलाज!

हिमाचल में कोरोना वायरस का कहर.

हिमाचल में कोरोना वायरस का कहर.

Corona Virus in Himachal: हिमाचल प्रदेश में 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए 17 मई से वैक्सीन लगाई जाएगी. शिमला मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि राज्य सरकार ने 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए 1.07 लाख वैक्सीन डोज पहुंच गए हैं और 17 मई से टीकाकरण शुरू होगा.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल में कोरोना (Corona Virus) के मामलों में लगातार बढ़ौतरी हो रही है. बीते दो दिनों में साढ़े 9 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं और 130 लोगों की मौत हुई है. अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. कोरोना इसी रफ्तार से आगे बढ़ता रहा तो मरीजों के लिए अस्पताल कम पड़ जाएंगे. इसको देखते हुए राज्य सरकार अब धार्मिक संस्थानों (Religious Place) की मदद लेने की तैयारी कर रही है.

जानकारी के अनुसार, आपात स्थिति में धार्मिक संस्थानों में भी मरीजों के लिए बिस्तर लगवाए जा सकते हैं और अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं भी इन्हीं धार्मिक केंद्रों में मुहैया करवाने की तैयारी चल रही है. इस संबंध में सीएम जय राम ठाकुर गुरुवार को दोपहर 3 बजे धार्मिक संस्थानों के प्रमुखों और पदाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक करेंगे. भाषा एवं संस्कृति विभाग ने प्रदेशभर में स्थित मंदिरों, गुरूद्वारों, मस्जिदों, मोनेस्ट्री और राधा स्वामी ब्यास केंद्रों की सूची तैयार कर ली है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में इन धार्मिक संस्थाओं और संस्थानों को निमंत्रण

मंडी जिले के पड्डल और रिवालसर स्थित गुरुद्वारा, भीमाकाली मंदिर ट्रस्ट, रिवालसर स्थित निगम्पा मठ, आर्ट ऑफ लिविंग मंडी और जामा मस्जिद का नाम सूची में शामिल है. कुल्लू जिले का रघुनाथ मंदिर, ऑर्ट ऑफ लिविंग सेंटर कुल्लू, देवी-देवता कारदार संघ, जामा मस्जिद कुल्लु, मणिकर्ण स्थित गुरुद्वारा, अखाड़ा बाजार स्थित गुरुद्वारा, मनाली स्थित हिमालयन बौद्धिस्ट सोसायटी गोम्पा, शाढ़ाबाई बौद्ध मठ को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल होने का निमंत्रण दिया गया है.
लाहौल में कहां होगा इलाज

लाहौल स्पीति के केलांग में स्थित, शाशुर मठ,कारधांग मठ,लाबरंग मठ,गैमूर मठ,स्पीति में स्थित कुंगरी गोम्पा, की मोनेस्ट्री शामिल है. हमीरपुर जिले में नादौन और हमीरपुर गुरूद्वारा, ब्रह्मकुमारी, गोडिया मठ, श्री सत्य सेवा समिति, पतंजलि योग पीठ बड़सर, जामा मस्जिद हमीरपुर, ऑर्ट ऑफ लिविंग केंद्र शामिल हैं. सिरमौर जिले में अंजुम इस्लामिया, जामा मस्जिद नाहन और पावंटा साहिब, नाहन, पांवटा साहिब और बड़ू साहिब स्थित गुरूद्वारा और कालिस्तान मंदिर ट्रस्ट शामिल हैं. बिलासपुर जिले में ऑर्ट ऑफ लिविंग सेंटर, गुरूद्वारा,बिलासपुर, जामा मस्जिद और संत निरंकारी मिशन सूची में हैं.

सोलन में भी मदद लेगी सरकार



सोलन जिले में ऑर्ट ऑफ लिविंग सेंटर, गुरूद्वारा,जामा मस्जिद और सोलन मठ सूची में शामिल हैं. चंबा जिले में ऑर्ट ऑफ लिविंग, जामा मस्जिद,चंबा शहर और जंसाली स्थित गुरूद्वारा, चुराह गोम्पा, चौरासी मंदिर भरमौर को निमंत्रण दिया गया है. ऊना जिले में कोटला कलां स्थित बाबा बल जी महाराज, गुरूद्वारा ऊना और बसाल स्थित बाबा स्वामी सुग्रीवा नंद महाराज शामिल हैं. कांगड़ा जिले में धर्मशाला स्थित नम्गयाल मोनेस्ट्री, ऑर्ट ऑफ लिविंग सेंटर, जामा मस्जिद, धर्मशाला स्थित गुरूद्वारा, सत्य सांई सेवा संगठन, संत निरंकारी मंडल, श्री सांई सर्व धर्म सेवा चेरीटेवल और ब्रह्म कल्याण परिषद जय होटल शामिल हैं. शिमला जिले में गुरूद्वारा प्रबंधन कमेटी शिमला, संजौली स्थित जौंग फुन्सटोक बौद्धिस्ट मोनेस्ट्री, पंथाघाटी स्थित दोरजे दाख मोनेस्ट्री और ब्रह्मकुमारी आश्रम, ऑर्ट ऑफ लिविंग सेंटर और वक्फ बोर्ड हिमाचल को न्यौता दिया गया है. किन्नौर जिले महा बौद्धिस्ट सोसाइटी मोनेस्ट्री, कुनु चुरंग मोनेस्ट्री, धुध सम्तान चौलिंग मोनेस्ट्री और जुढूंग चौलिंग मोनेस्ट्री को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल होने का निमंत्रण दिया गया है. इसके अलावा 9 जिलों में स्थित राधा स्वामी ब्यास केंद्रों को भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बुलाया गया है.

17 मई से शुरू होगा वैक्सीनेशन

हिमाचल प्रदेश में 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए 17 मई से वैक्सीन लगाई जाएगी. शिमला मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि राज्य सरकार ने 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए 1.07 लाख वैक्सीन डोज पहुंच गए हैं और 17 मई से टीकाकरण शुरू होगा. उन्होंने कहा कि टीकाकरण ‘पहले आओ, पहले पाओ’ के आधार पर किया जाएगा. यह अवधि पंजीकरण के समय से तय होगी. इस आयु वर्ग में करीब 32 लाख लोग हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज