लाइव टीवी

हिमाचल में करोना वायरस से निपटने के लिए तैयारी, चीन से धर्मशाला आने वालों पर नजर
Shimla News in Hindi

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 3, 2020, 12:50 PM IST
हिमाचल में करोना वायरस से निपटने के लिए तैयारी, चीन से धर्मशाला आने वालों पर नजर
शिमला का आईजीएमसी अस्पताल.

Corona Virus in Himachal: भारत में भी अब तक कोरोना वायरस के दो मामले सामने आए हैं. हिमाचल में भी लोगो में दहशत का माहौल है. क्योंकि यहां से डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए स्टूड़ेंट चीन जाते रहते हैं.

  • Share this:
शिमला. चीन (China) से फैला कोरोना वायरस (Corona Virus) धीरे-धीरे भारत में भी अपने पांव पसार रहा है. कोरोना वायरस का कहर हिमाचल (Himachal) में न फैले, इसको रोकने के लिए सरकार ने प्रबंध किए हैं. सरकार ने कोरोना वायरस की जानकारी देने के लिए टोल फ्री नम्बर (Toll Free Number) 104 जारी कर दिया है, जहाँ इस वायरस से सम्बंधी जानकारी हासिल की जा सकती है.

कोरोना वायरस से निपटने के लिए शिमला (Shimla) के इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज अस्पताल (IGMC) प्रबंधन ने इंतजाम किए हैं. इसके लिए अस्पताल में आईसोलेशन वार्ड भी तैयार रखा है. वहीं, धर्मशाला में चीन (China) से आने वालों पर नजर रखी जा रही है. बता दें कि धर्मशाला (Dharamshala) में तिब्बती लोगों की ब़ड़ी संख्या रहती है. वहां चीन से भी टूरिस्ट आते हैं.

यह बोले मुख्य वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक
IGMC के मुख्य वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जनक राज ने बताया कि खांसी, जुकाम, नाक का बहना और शरीर में दर्द होने की समस्या पर तुरंत नजदीकी चिकित्सा केंद्र में जाकर जांच करने की सलाह दी है. उन्होंने बताया कि अभी तक इस बीमारी से सम्बंधित कोई भी मरीज प्रदेश में नहीं है, लेकिन यदि कोई मरीज इस तरह का हिमाचल में पाया जाता है तो इससे निपटने के लिए IGMC पूरी तरह से तैयार है.

‘आईसोलेशन वार्ड भी स्थापित, मास्क भी हैं’
IGMC के मुख्य वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जनक राज ने कहा कि प्रदेश में इस बीमारी की जाँच के लिए दो सबसे बड़े अस्पताल इंदिरा गाँधी मेडिकल कालेज शिमला और टांडा मेडिकल कालेज, कांगड़ा में आईसोलेशन वार्ड भी स्थापित गए हैं. उन्होंने बताया कि इसकी रोकथाम के लिए प्रशासन ने N -95 मास्क और हेंड सेनेटाइजर भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं, ताकि यह वायरस एक मरीज से दूसरे मरीज तक आसानी से न पहुंच सके. गौरतलब है कि सूबे में इस वायरस की पुष्टि करने की सुविधा नहीं है. यहां से सैंपल पुणे भेजे जाते हैं.

मैक्लोडगंज में क्योर सेंटरप्रशासन की ओर से कोरोना वायरस को लेकर धर्मशाला में अलर्ट जारी किया गया है. तमाम होटल मालिकों को हिदायतें जारी हुई हैं कि बाहर से आने वाले हर सैलानियों का पुख़्ता रिकॉर्ड रखे और विदेशी सैलनियों के आने पर प्रशासन को सूचित करना जरूरी है. इसके अलावा, स्वास्थ्य विभाग ने धर्मशाला के मैक्लोडगंज में क्योर सेंटर बनाया है. बता दें कि धर्मशाला के मैक्लोडगंज में काफी विदेशी सैलानी आते हैं. क्योंकि बौद्ध धर्मगुरु दलाईलामा का यहां निवास है. ऐसे में गुपचुप तरीके से सैलानी चीन से भी आते हैं.

सरकार ने जारी की है एडवायजरी
चीन में कोरोना वायरस के कहर से मरने वालों की संख्या ढाई सौ के पार पहुँच गई है. भारत में भी अब तक कोरोना वायरस के दो मामले सामने आए हैं. हिमाचल में भी लोगो में दहशत का माहौल है. क्योंकि यहां से डॉक्टरी की पढ़ाई के लिए स्टूड़ेंट चीन जाते रहते हैं. हालाँकि, प्रदेश में अभी तक कोई मामला सामने नहीं आया है. लेकिन सरकार ने एडवाइजरी भी जारी की है और चीन से आने वाले लोगों पर नजर रखने के निर्देश दिए है.

ये भी पढ़ें: हिमाचल में तेज रफ्तार कार ने स्कूल जा रही दादी और पोती को रौंदा, मौत

65 दिन से लापता शुभम:100 पुलिस जवान-स्थानीय लोगों ने फिर छेड़ा तलाशी अभियान

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 3, 2020, 12:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर