Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    COVID-19: हिमाचल में कोरोना से रोजाना 7 लोगों की हो रही मौत

    कोरोना से मौतें. (सांकेतिक तस्वीर)
    कोरोना से मौतें. (सांकेतिक तस्वीर)

    Corona virus in Himachal: हिमाचल में कोरोना से अब तक 246 मौतें हो चुकी हैं. कुल कोरोना के मामले 17578 हो गए हैं, जबकि 2637 एक्टिव केस और 14670 ठीक हो गए हैं.

    • Share this:
    शिमला. हिमाचल में कोरोना (Corona Virus) ने अब कोहराम मचा दिया है. रोजाना औसत 7 लोगों की कोरोना से मौत (Death) हो रही है. स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने जब कोरोना से मौतों का विश्लेषण किया तो पाया गया कि ज्यादातर लोग कोमोरबिडिटी से पीड़ित हैं. यानी उन्हें कोई दूसरी गंभीर बीमारी भी है, जिसमें लेबल टू डायबटीज, बीपी-हाइपरटेंशन, हृदय संबंधी रोग, किडनी और लंग्ज से संबंधित बीमारियां भी शामिल हैं. लेकिन इन सब रोगों की जड़ में बीपी और शुगर पाया गया है. ऐसे में मरीज देरी से अस्पताल (Hospital) पहुंच रहे हैं और उनका पूरा ध्यान नहीं रखा जा रहा है. यही वजह है कि मौतों का आंकड़ा बढ़ रहा है. सचिव स्वास्थ्य अमिताभ अवस्थी ने इसकी पुष्टि की है. उनके मुताबिक करीब 70 प्रतिशत मौतें कोमोरबिटिडी की वजह से हो रही हैं. इन लोगों का ध्यान रखना अब बहुत जरूरी हो गया है.

    बीपी-शुगर से पीड़ित मरीजों की होगी मैपिंग

    बीपी और शुगर असंक्रामक रोग हैं. यानी एक से दूसरे को नहीं फैलते हैं, इसलिए सरकार ने फैसला किया है कि जो लोग बीपी-शुगर से पीड़ित हैं, उनकी मैपिंग की जाएगी. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के पास ऐसे लोगों की सूची है जो असंक्रामक रोगों से ग्रसित हैं। सीएमओ-बीएमओ को सरकार की तरफ से निर्देश दिए गए हैं कि वे आशा वर्करों को जिम्मा सौंपे। ऐसे सभी लोग जो बीपी-शुगर से पीड़ित हैं। उनसे वे प्रतिदिन संवाद करेंगी। जिसमें अगर उनके अंदर कोरोना के लक्षण आ रहे होंगे तो उनकी तुरंत जांच या जरूरी हुआ तो एंबुलेंस से नजदीकी अस्पताल लाने की व्यवस्था की जा सके. हिमाचल सरकार ने भी कोरोना काल में एक्टिव केस फांइडिंग अभियान चलाया था, जिसमें 10 लाख से ज्यादा की आबादी दूसरे रोगों से ग्रसित पाई गई थी. बहरहाल, अब ऐसे लोगों पर ज्यादा नजर रखने की जरूरत है, जो बीपी-शुगर सहित दूसरी गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं.




    क्या बोले अधिकारी

    सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अमिताभ अवस्थी ने कहा कि ऐसी बीमारियों से ग्रसित लोगों में अगर खांसी, बुखार जैसे कोरोना के लक्षण हैं तो वे जांच करने में देरी न करें. सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अमिताभ अवस्थी के मुताबिक अब जनजीवन सामान्य हो रहा है. सरकार ने लगभग सारी बंदिशें खत्म कर गतिविधियां खोल दी हैं. लेकिन इस वक्त अब ज्यादा एहतियात बरतने की जरूरत है. सोशल डिस्टेसिंग, मास्क पहनना और हाथ सेनिटाइज करते रहें. इन तीन मूलमंत्रों को बिलकुल भी नहीं भूला जाना चाहिए. लापरवाही कभी भी भारी पड़ सकती है.

    हिमाचल में कोरोना से अब तक 246 मौतें

    हिमाचल में कोरोना से अब तक 246 मौतें हो चुकी हैं. कुल कोरोना के मामले 17578 हो गए हैं, जबकि 2637 एक्टिव केस और 14670 ठीक हो गए हैं. एक अक्तूबर से लेकर अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, सितंबर में 145 लोगों की जान गई थी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज