COVID-19: हिमाचल में कोरोना ने तोड़े पिछले सारे रिकॉर्ड, 2157 नए केस, 24 मौतें

राजस्थान में कोरोना संकट लगातार गहराता जा रहा है.

राजस्थान में कोरोना संकट लगातार गहराता जा रहा है.

Corona virus in Himachal: 27 अप्रैल आधी रात से हिमाचल में कोरोना को लेकर नई बंदिशें लागू हो गई हैं. अब हिमाचल आने वाले हर व्यक्ति को ई-कोविड पास का पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. साथ ही कोरोना रिपोर्ट को भी अनिवार्य कर दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 8:37 AM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को चौबीस घंटे में कोरोना वायरस (Corona Virus) ने 24 लोगों की जिंदगी को लील लिया. वहीं, एक दिन में हिमाचल में अब तक के सबसे ज्यादा 2157 केस रिपोर्ट हुए हैं. सूबे में सबसे बुरा हाल कांगड़ा (Kangra) जिले का है. यहां पर सबसे अधिक 12 मौतें और 631 केस भी रिपोर्ट हुए हैं. इसके अलावा, मंडी जिले में 5 मौतें, शिमला (Shimla) तीन, ऊना दो और सिरमौर में भी दो संक्रमितों की मौत हुई है. किन्नौर, चंबा और हमीरपुर में भी एक-एक संक्रमित ने दम तोड़ दिया.

कांगड़ा में रिकॉर्ड 631 नए मामले (New Cases)आए हैं. सोलन 264, मंडी 238, सिरमौर 110, ऊना 118, चंबा 86, कुल्लू 103, हमीरपुर 300, शिमला 195, बिलासपुर 82, किन्नौर 43, लाहौल-स्पीति में 17 नए पॉजिटिव आए हैं. मंडी के धर्मपुर में एचआरटीसी के चार चालक कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) निकले हैं. इसके चलते डिपो के सभी बस रूट दो दिन के लिए बंद कर दिए गए हैं.

कहां-कितने सक्रिय केस

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 91 हजार 350 पहुंच गया है. इनमें से अब तक 74 हजार 773 संक्रमित ठीक हो चुके हैं. 15 हजार151 सक्रिय केस (Active Cases) हैं और 1374 संक्रमितों की मौत हुई है. बिलासपुर में कोरोना के सक्रिय केसों की संख्या 846, चंबा 409, हमीरपुर 1262, कांगड़ा 3757, किन्नौर 133, लाहौल-स्पीति 216, कुल्लू 581, मंडी 1383, शिमला 1604, सिरमौर 1405, सोलन 2519 और ऊना जिले में 1036 पहुंच गई है। 24 घंटों में 1305 संक्रमित ठीक हुए हैं. इस दौरान कोरोना की जांच के लिए 11262 सैंपल लिए गए.
नई बंदिशें लागू

27 अप्रैल आधी रात से हिमाचल में कोरोना को लेकर नई बंदिशें (New Restrictions) लागू हो गई हैं. अब हिमाचल आने वाले हर व्यक्ति को ई-कोविड पास पोर्टल पर रजिस्टर्ड करवानी होगी. साथ ही कोरोना रिपोर्ट को भी अनिवार्य किया गया है. राज्य में यदि कोई कोरोना रिपोर्ट के बिना आता है तो उसे 14 दिन के लिए क्वारंटीन किया जाएगा और सातवें दिन उसका कोरोना टेस्ट होगा. कोरोना टेस्ट निगेटिव आने पर उसे जाने दिया जाएगा, अन्यथा आइसोलेशन सेंटर भेज दिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज