Himachal: होम आइसोलेशन में संक्रमित ने खोली पोल, कहा-नहीं संभलता प्रदेश तो स्लॉटर हॉउस बना दो

. शिमला में एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमित व्यक्ति का कहना है कि उसे पॉजिटिव हुए 5 दिन हो चुके हैं, लेकिन अब तक किसी ने उसकी सुध तक नहीं ली है.

. शिमला में एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमित व्यक्ति का कहना है कि उसे पॉजिटिव हुए 5 दिन हो चुके हैं, लेकिन अब तक किसी ने उसकी सुध तक नहीं ली है.

Corona Virus: मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए राहुल ने कह रहा है कि अपने प्रदेशवासियों को संभालो, हमने आप पर विश्वास किया था, लेकिन अब सच्चाई पता चल रही है. राहुल ने वैक्सीनेशन अभियान पर भी सवाल उठाए हैं.

  • Share this:

शिमला. हिमाचल सरकार दावा कर रही है कि कोरोना संक्रमित मरीजों को सभी सुविधाएं दी जा रही हैं, होम आइसोलेशन में रहने वालों का ख्याल रखा जा रहा है. दवाइयों से लेकर अन्य किसी भी तरह की कमी नहीं है, लेकिन सरकार के दावों की पोल एक कोरोना संक्रमित व्यक्ति ने खोली है. शिमला में एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमित व्यक्ति का कहना है कि उसे पॉजिटिव हुए 5 दिन हो चुके हैं, लेकिन अब तक किसी ने उसकी सुध तक नहीं ली है. ये शख्स अपना नाम राहुल बता रहा है.

Youtube Video

कहा-डाक्टरों की टीम आएगी घर

वीडियो में व्यक्ति का कहना है कि 5 दिनों से संक्रमित हैं और अपना इलाज खुद कर रहे हैं. दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में जैसे ही पता चल गया कि उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है तो अस्पताल में सभी का व्यवहार एकदम से बदल गया. काफी देर इंतजार करने बाद उन्हें डॉक्टर ने कहा कि आप घर जाइए. आपके घर पर शाम को डॉक्टरों की टीम आएगी, ये टीम आपको बताएगी कि आपको क्या-क्या करना है, कौन सी दवाइयां लेनी हैं लेकिन 5 दिन हो गए कोई टीम नहीं आई. यहा तक कि आशावर्कर भी नहीं आई, एक फोन कॉल तक नहीं आई. ये भी नहीं पूछा गया कि आप जिंदा है या नहीं. मरीज का कहना है कि सरकार सुविधाओं को लेकर हल्ला मचा रही है, लेकिन ग्राउंड रिएलिटी का पता अब चल रहा है, सरकार को कोई लेना-देना नहीं है.

Youtube Video

मरने के लिए छोड़ दिया

मरीज सरकार को यहां तक कह रहा है कि आपके बस का नहीं है तो छोड़ दो सबको मरने के लिए, प्रदेश नहीं संभलता तो इसे स्लॉटर हॉउस बना दो. 104 हेल्पलाइन की पोल खोलते हुए व्यक्ति कहता है कि 104 वाले सही से बात नहीं करते. कहते हैं कि 1500 पर बात करने को कहा जाता है. प्रशासन नाम की कोई चीज नजर नहीं आ रही है. मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए राहुल ने कह रहा है कि अपने प्रदेशवासियों को संभालो, हमने आप पर विश्वास किया था, लेकिन अब सच्चाई पता चल रही है. राहुल ने वैक्सीनेशन अभियान पर भी सवाल उठाए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज