महिलाओं के प्रति हिमाचल में बढ़ा अपराध, पुलिस कर रही ये काम

हिमाचल प्रदेश में महिलाओं के प्रति अपराध के मामले में दिन प्रति दिन बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. पुलिस पूरे राज्य में सीसीटीवी कैमरे का जाल बिछाने जा रही है.

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 9, 2019, 1:13 PM IST
महिलाओं के प्रति हिमाचल में बढ़ा अपराध, पुलिस कर रही ये काम
हिमाचल पुलिस सीसीटीवी का जाल बिछाने जा रही है
Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: June 9, 2019, 1:13 PM IST
हिमाचल प्रदेश में महिलाओं के प्रति अपराध के मामले में दिन प्रति दिन बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. प्रदेश में हर 31 घंटे में बलात्कार की घटना को अंजाम दिया जा रहा है. जाहिर है कि इससे हिमाचल प्रदेश जैसे शांत प्रदेश की छवि खराब हो रही है. इन घटनाओं से ना केवल स्थानीय समाज परेशान है बल्कि इससे हिमाचल की पुलिस और प्रशासन भी परेशान है. यही वजह है कि महिलाओं के प्रति हो रहे अपराधों को रोकने के लिए हिमाचल पुलिस विशेष मुहिम चला रही है. राज्य की पुलिस महिलाओं के प्रति अपराधों पर लगाम लगाने के लिए विशेष मुहिम चलाने जा रही है. पुलिस पूरे राज्य में सीसीटीवी कैमरे का जाल बिछाने जा रही है.

हिमाचल प्रदेश में सीसीटीवी कैमरों का जाल बिछाएगी पुलिस

राज्य के तमाम शहरों और कस्बों के बाजार और सार्वजनिक जगहों पर सीसीटीवी लगाने से अपराधियों को पकड़ना आसान हो जाएगा. आम जनता के अलावा दुकानदारों और व्यापारियों से भी सहयोग मांगा जा रहा है. ज्यादा से ज्यादा सीसीटीवी लगाए जाने की मुहिम को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में भी शामिल किया गया है. पुलिस का मानना है कि सीसीटीवी लगने से अपराध को रोकने और दोषियों को पकड़ने में आसानी होगी..

'महिलाओं के प्रति संकीर्ण मानसिकता में लाना होगा बदलाव'

एसपी लॉ एंड ऑर्डर खुशहाल शर्मा ने लोगों से सहयोग की अपील की है. उन्होंने इसके साथ ही कहा कि महिलाओं के प्रति अपराध सामाजिक व्यवस्था और परवरिश से प्रभावित होते हैं. महिलाओं के प्रति संकीर्ण मानसिकता में बदलाव लाना होगा. उन्होंने कहा कि समाज के योगदान के बिना इस पर रोक नहीं लगाई जा सकती.

यह भी पढ़ें: रोहतांग टनल निर्माण को लेकर सीएम जयराम ठाकुर ने BRO से ​किया ये आग्रह

दहेज के चलते 28 वर्षीय योगिता की ली जान, पति, सास और ननद गिरफ्तार
First published: June 9, 2019, 1:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...