क्राइम कंट्रोल करने की कवायद शुरू, 2020 के लिए शिमला पुलिस ने तय की ये 3 प्राथमिकताएं
Shimla News in Hindi

क्राइम कंट्रोल करने की कवायद शुरू, 2020 के लिए शिमला पुलिस ने तय की ये 3 प्राथमिकताएं
शिमला पुलिस ने क्राइम कंट्रोल करने के लिए शुरू की कवायद (फाइल फोटो)

नशे पर रोकथाम, सड़क हादसों (Road accidents) पर रोक लगाना, किराएदारों और बाहर से आने वालों लोगों का रजिस्ट्रेशन करना इस वर्ष शिमला पुलिस (shimla police) की प्राथमिकता रहेगी.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal pradesh)की राजधानी शिमला की पुलिस ( (Shimla police) ने साल 2020 के लिए 3 प्राथमिकताएं तय कर ली हैं. नशे पर रोकथाम, सड़क हादसों (Road accidents) पर रोक लगाना, किराएदारों और बाहर से आने वालों लोगों का रजिस्ट्रेशन करना इस वर्ष पुलिस की प्राथमिकता रहेगी. साथ ही पुलिस प्रदेश में क्राइम रेट को कम करने ने सख्ती बरतेगी.

क्राइम रेट कम करने के लिए उठाए जाएंगे कदम

SP ओमापति जम्वाल का कहना है कि नशा मौजूद समय में महामारी का रूप लेता जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में चिट्टा (heroin) सबसे बड़ी चिंता का विषय है. 2019 में अब तक करीब ढाई किलो चिट्टा पकड़ा जा चुका है, जो कि जोकि हैरान करने वाला है, ऐसे में समाज के साथ मिलकर इस लड़ाई को लड़ा जाएगा. उन्होंने कहा कि 2020 में सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाना पुलिस की दूसरी बड़ी प्राथमिकता रहेगी.



2019 में अधिकतर मामलों में बाहरी लोगों की संलिप्तता ज्यादा पाई गई
ओमापति जम्वाल ने कहा कि ग्रामीण इलाकों में सड़क दुर्घटना के ज्यादा मामले सामने आए हैं. घायलों और मौत के आंकड़े कम करने की दिशा में आगे बढ़ा जाएगा. SP का कहना है कि 2019 में अपराध को लेकर आंकड़े हैं उनमें बाहरी लोगों की संलिप्तता ज्यादा पाई गई है, ऐसे में किराएदारों और बाहर से शिमला आकर रहने वालों की रेजिस्ट्रेशन करवाई जाएगी.

यह भी पढ़ें- हिमाचल: बेटे की शहादत का गम नहीं सह सकी मां, अंतिम सरकार के बाद तोड़ा दम

यह भी पढ़ें- कुल्लू पुलिस ने 15 ग्राम चिट्टे के साथ नाइजीरियन सप्लायर को दिल्ली से किया गिरफ्तार

यह भी पढ़ें- कोर्ट का फैसला : 2005 के तेजाब कांड की दो पीड़िताओं को मिलेगा 25 लाख का मुआवजा

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading