लाइव टीवी

वृद्ध महिला से क्रूरता: सामाजिक कार्यकर्ता ने HC से दोषियों को जमानत न देने की लगाई गुहार

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: November 13, 2019, 5:29 PM IST
वृद्ध महिला से क्रूरता: सामाजिक कार्यकर्ता ने HC से दोषियों को जमानत न देने की लगाई गुहार
सामाजिक कार्यकर्ता रवि कुमार ने हाईकोर्ट के समक्ष बैठकर घटना पर जताया रोष

सामाजिक कार्यकर्ता रवि कुमार अपने समर्थकों के साथ हाईकोर्ट पहुंचे और गेट के बाहर बैठकर घटना पर रोष जताया. उन्होंने न्यायालय से पीड़िता को न्याय देने की गुहार लगाई.

  • Share this:
मंडी. हिमाचल में मंडी (Mandi) जिला के सरकाघाट (Sarkaghat) गाहर पंचायत में बीते दिनों वृद्ध महिला के साथ देवता के नाम पर हुई अमानवीयता (Cruelty with Old Woman) के मामले को लेकर प्रदेश भर के लोगों में भारी आक्रोश है. घटना के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए सामाजिक कार्यकर्ता (Social Worker) भी हाईकोर्ट (High Court) का दरवाजा खटखटा रहे हैं.  बुधवार को सामाजिक कार्यकर्ता रवि कुमार ने समर्थकों के साथ हाईकोर्ट में ज्ञापन सौंपकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की. रवि कुमार अपने समर्थकों के साथ हाईकोर्ट पहुंचे और गेट के बाहर बैठकर घटना पर रोष जताया. उन्होंने न्यायालय से पीड़िता को न्याय देने की गुहार लगाई.

कड़ा कानून बनाने की मांग

पुलिस ने कार्यकर्ताओं को मेन गेट तक नहीं आने दिया. ऐसे में गेट से दूर बैठकर कार्यकर्ताओं ने रोष जताया. मुख्य न्यायाधीश एल. नारायण स्वामी के सचिव को ज्ञापन सौंपकर रवि कुमार ने कहा कि देवता के नाम से हो रहे अन्याय के खिलाफ सख्त कानून बनाया जाए. उन्होंने मांग करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार अध्यादेश लाकर कड़ा कानून बनाए ताकि ऐसी अमानवीय घटनाओं पर रोक लगाई जा सके.

सामाजिक कार्यकर्ता रवि कुमार ने कार्यकर्ताओं के साथ कोर्ट को सौंपा ज्ञापन


पुलिस व प्रशासन ने नहीं निभाई जिम्मेदारी

सामाजिक कार्यकर्ता रवि कुमार ने घटना के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ प्रदेश सरकार की देरी से की गई कार्रवाई पर भी सवाल उठाए. उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस और जिला प्रशासन मंडी अपने दायित्व को निभाने में पूरी तरह विफल रही है.

ये भी पढ़ें - HC की तल्खी पर सरकार ने शुरू की मानवाधिकार आयोग अध्यक्ष की नियुक्ति प्रक्रिया
Loading...

ये भी पढ़ें - कांग्रेस ने उठाए ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट पर सवाल, पूछा अबतक कितना हुआ है निवेश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 5:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...