DIGITAL INDIA: ई-विधान सिस्टम को समझने मेघालय के विधानसभा उपाध्यक्ष पहुंचे शिमला

ई-विधान का सिस्टम समझने के लिए मेघालय के विधानसभा उपाध्यक्ष तिमोठी डी. शिरा 6 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ शिमला आए हुए हैं.

G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 22, 2019, 2:13 PM IST
DIGITAL INDIA: ई-विधान सिस्टम को समझने मेघालय के विधानसभा उपाध्यक्ष पहुंचे शिमला
हिमाचल विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने मेघालय के विधानसभा उपाध्यक्ष तिमोठी डी शिरा का स्वागत करते हुए
G.S. Tomar
G.S. Tomar | News18 Himachal Pradesh
Updated: July 22, 2019, 2:13 PM IST
हिमाचल प्रदेश विधानसभा शिमला की ई-विधान प्रणाली का डंका देश-विदेश में बज रहा है. विधानसभा की पेपरलेस कार्य प्रणाली को देखने देशभर के कई राज्यों के प्रतिनिधिमंडल दौरा कर चुके हैं. हिमाचल विधानसभा देश की ऐसी पहली विधानसभा है जहां पर सबसे पहले ई-विधान प्रणाली को लागू किया गया. यही वजह है कि ई-विधान का सिस्टम समझने के लिए मेघालय के विधानसभा उपाध्यक्ष तिमोठी डी. शिरा 6 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ शिमला आए हुए हैं.

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने तिमोठी डी शिरा का किया स्वागत

Timothi D shira-तिमोठी डी शिरा
मेघालय विधानसभा उपाध्यक्ष तिमोठी डी शिरा ने हिमाचल विधानसभा में अपनी बात रखी


विधानसभा शिमला पहुंचने पर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल ने शॉल-टोपी पहनाकर स्वागत किया और विधानसभा की ई-विधान प्रणाली से अवगत करवाया. राजीव बिंदल ने कहा कि राजीव बिंदल ने कहा कि देश एवं विदेशों से भी प्रतिनिधिमंडल आकर ई-विधान प्रणाली के कार्य की जानकारी हासिल कर रहे हैं और अपने विधानसभा में इस प्रणाली को शुरू करने जा रहे हैं. तिमोठी डी शिरा ने कहा कि इससे काजग की बचत होगी और इससे पेड़ों को कटने से बचाया जा सकेगा.

'हम पीएम मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करेंगे'

तिमोठी डी शिरा ने कहा कि शिमला विधानसभा की ई-विधान प्रणाली काबिले तारीफ हैं. पर्यवारण संरक्षण के लिए इस पद्धति को अपना बेहद जरूरी है. इस प्रणाली पर मेघालय सरकार भी काम करेगी. उन्होंने कहा कि हम पीएम मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करेंगे.

यह भी पढ़ें: अघंजर महादेव: खनियारा में शिव ने अर्जुन को दिया था पशुपति अस्त्र
Loading...

 एपीजी यूनिवर्सिटी के रिश्वत के पेट्रोल से चल रही पुलिसवाले की गाड़ी!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 2:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...