हाईकोर्ट के फैसले के बाद शिमला में बढ़ाई जाएगी डोर-टू-डोर गार्बेज कलेक्शन फीस

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला शहर में डोर टू डोर गार्बेज फीस में बढ़ोतरी को लेकर 5 जनवरी के बाद ही निर्णय लिया जाएगा.

Gulwant Thakur | ETV Haryana/HP
Updated: January 2, 2018, 11:10 AM IST
हाईकोर्ट के फैसले के बाद शिमला में बढ़ाई जाएगी डोर-टू-डोर गार्बेज कलेक्शन फीस
प्रतीकात्मक तस्वीर.
Gulwant Thakur | ETV Haryana/HP
Updated: January 2, 2018, 11:10 AM IST
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला शहर में डोर टू डोर गार्बेज फीस में बढ़ोतरी को लेकर 5 जनवरी के बाद ही निर्णय लिया जाएगा. फीस वृद्धि को लेकर हाईकोर्ट द्वारा गठित कमेटी 5 जनवरी को कोर्ट में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी. शिमला की सफाई व्यवस्था के लिए हाई कोर्ट द्वारा निगम आयुक्त के नेतृत्व में गठित कमेटी ने शहर के विभिन्न वर्गों के साथ बैठक कर रिपोर्ट तैयार की है, जिसे एमसी आयुक्त अब जल्द ही कोर्ट को सौंपने जा रहा है.

हाई कोर्ट के आदेशों के बाद एमसी की डोर टू डोर सेवा की विभिन्न केटेगरी में पुरानी दरों में 50 और 100 फीसदी तक बढ़ोतरी करने के निर्देश जारी किए हैं. कमेटी को शहर के विभिन्न वर्गों होटल व्यवसायी,पर्यटन से जुड़े कारोबारी और विभिन्न संस्थायों से विचार विमर्श कर रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया था. इसके बाद निगम आयुक्त की 6 सदस्यीय कमेटी ने बैठक कर रिपोर्ट तैयार की है जिसे कमेटी जल्द ही सौंपने जा रही है उसके बाद ही डोर टू डोर गारबेज की फीस पर निर्णय लिया जाएगा.

आयुक्त जीसी नेगी ने बताया कि कि कोर्ट के आदेशों के बाद कमेटी की बैठक कर इसमें नई दरों को लेकर चर्चा की गई है और इसमें विभिन्न केटेगरी को शामिल कर रिपोर्ट तैयार की गई है इसे जल्द ही कोर्ट को सौंपा जाएगा और उसके बाद जो हाई कोर्ट निर्णय लेगा उसे अमल में लाया जाएगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 1, 2018, 4:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...