लाइव टीवी

छात्रों को पढ़ाई का मतलब बताएगा शिक्षा विभाग, लर्निंग ऑउटकम को सुधारने का भी होगा प्रयास

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: October 24, 2019, 6:20 PM IST
छात्रों को पढ़ाई का मतलब बताएगा शिक्षा विभाग, लर्निंग ऑउटकम को सुधारने का भी होगा प्रयास
टीचर प्रशिक्षण कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने क्वेश्चन बैंक का किया शुभारंभ

सरकारी स्कूलों में छात्रों का लर्निंग आउट कम सुधारने के लिए शिक्षा विभाग नए पैटर्न पर काम करने जा रहा है, जिसके चलते शिक्षा विभाग छात्रों को अब पढ़ाई का मतलब बताएगी.

  • Share this:
शिमला. सरकारी स्कूलों में छात्रों का लर्निंग आउटकम (Learning Outcome) सुधारने के लिए शिक्षा विभाग (Education Department) नए पैटर्न पर काम करने जा रहा है, जिसके चलते शिक्षा विभाग की टीम छात्रों को अब पढ़ाई का मतलब बताएगी. पढ़ाई-लिखाई का व्यवहारिक जीवन में किस तरह से उपयोग करना है. इसके बारे में भी छात्रों को जानकारी दी जाएगी. इसके अलावा नई शिक्षण पद्धति(Teaching method) को लेकर शिक्षकों (teachers) को समय समय पर प्रशिक्षण (Training) दिया जाएगा. लर्निंग ऑउटकम में सुधार को लेकर केंद्र सरकार की मदद भी ली जाएगी.

सभी विषयों को लेकर खाका किया गया तैयार -सुरेश भारद्वाज

शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज (Education Minister Suresh Bhardwaj) ने कहा कि छात्रों के सर्वांगीण विकास की तरफ ज्यादा ध्यान दिया जाएगा और साथ ही टीचर्स स्किल (Teachers skill) को निखारने का भी प्रयास भी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इन सभी विषयों को लेकर खाका तैयार कर लिया गया है. टीचर ट्रेनिंग कार्यक्रम (Teacher training program) को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि प्रारंभिक शिक्षा में नवीनतम तकनीकों एवं सकारात्मक बदलावों की जरूरत है, जिससे छात्रों (Students) को मजबूत नींव प्रदान हो और उनका समग्र विकास संभव हो.

बच्चों के लिए क्वेश्चन बैंक किया तैयार

शिक्षा मंत्री ने संस्कार युक्त एवं रचनात्मक शिक्षा पद्धति पर बल दिया, जिससे विद्यार्थी एवं शिक्षक के बीच सीधा संवाद स्थापित हो सके और वैश्विक प्रतिस्पर्धा के दौर में विद्यार्थी वर्ग अपने लक्ष्य को हासिल कर सके. सरकार ने कक्षा 1-8वीं तक के बच्चों के लिए क्वेश्चन बैंक तैयार किया है. शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बुधवार को शिमला में समग्र शिक्षा अभियान (एसएसए) की ओर से आयोजित टीचर प्रशिक्षण कार्यक्रम में इसका शुभारंभ किया. क्वेश्चन बैंक को प्रदेश के 4500 स्कूलों के टीचरों को दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें- हिमाचल: कुल्लू में 300 मीटर नीचे जा गिरी स्कॉर्पियो, पांच युवकों की मौत

यह भी पढ़ें- चंबा: दो मंजिला मकान में लगी आग, दवा व किराने की दुकान को भी चपेट में लिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 6:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...