लाइव टीवी

स्मार्ट सिटी शिमला: 130 करोड़ से शुरू होंगे 8 प्रोजेक्ट, रिज की रिपेयर के लिए 11 लाख की पेमेंट
Shimla News in Hindi

Gulwant Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 12, 2020, 11:36 AM IST
स्मार्ट सिटी शिमला: 130 करोड़ से शुरू होंगे 8 प्रोजेक्ट, रिज की रिपेयर के लिए 11 लाख की पेमेंट
स्मार्ट सिटी शिमला प्रोजेक्ट. (सांकेतिक तस्वीर)

Smart City Project Shimla: बैठक में स्मार्ट सिटी कंपनी के प्रबंध निदेशक पंकज राय ने सभी प्रोजेक्ट पर मुख्य सचिव के समक्ष प्रेजेंटेशन प्रस्तुत की और प्रत्येक प्रोजेक्ट की स्टेटस रिपोर्ट पेश की.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Shimla) की राजधानी शिमला के स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट (Smart City Shimla) के तहत 130 करोड़ रुपए के 8 प्रोजेक्ट्स को प्रदेश सरकार ने मंजूरी प्रदान कर दी है. इसके तहत शिमला (Shimla) में स्मार्ट फुटपाथ, पार्किग, बिजली व केबल की तारों को अंडरग्रांऊड करने, चैनेलाईजेशन ऑफ नाला, सकुर्लर रोड में सड़कों को चौड़ा करने, फुटपाथ निर्माण किया जाएगा. इसे स्मार्ट सिटी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स (BOD Meeting) की बैठक में स्वीकृति प्रदान की गई है.

बीओडी की मीटिंग हुई
मंगलवार को मुख्य सचिव अनिल खाची की अध्यक्षता में स्मार्ट सिटी के निदेशक मंडल की बैठक हुई. बैठक में कंपनी की ओर से नए प्रोजेक्ट को भी मंजूरी के लिए रखा गया था, इसमें छोटा शिमला से आयुर्वेदिक अस्पताल तक एलिवेटर वॉक-वे, बालूगंज में सड़क को चौड़ा कर स्मार्ट स्कूल बनाना, ड्रेनों की मरम्मत, रिज पर फांउटेन की जगह को विकसित करने इत्यादि शामिल है. निदेशक मंडल ने स्मार्ट सिटी के तहत नए प्रोजेक्ट को भी मंजूरी प्रदान कर दी है.

निर्धारित समय के भीतर टेंडर प्रक्रिया

बैठक में स्मार्ट सिटी कंपनी के प्रबंध निदेशक पंकज राय ने सभी प्रोजेक्ट पर मुख्य सचिव के समक्ष प्रेजेंटेशन प्रस्तुत की और प्रत्येक प्रोजेक्ट की स्टेटस रिपोर्ट पेश की. मुख्य सचिव अनिल खाची ने सभी विभागों को स्मार्ट सिटी के तहत विकास कार्यों के लिए निर्धारित समय के भीतर टेंडर प्रक्रिया को पूरा करने के निर्देश दिए है, ताकि प्रोजेक्ट को गति प्रदान की जा सके.

रिज की रिपेयर के लिए 11 लाख की पेमेंट
स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए है कि जमीन की निशानदेही का कार्य 7 दिन के भीतर राजस्व अधिकारियों को करना होगा. मुख्य सचिव ने तय समय के भीतर जमीन से जुड़े मामलों को निपटारा करने के निर्देश दिए, ताकि इससे प्रोजेक्ट को समय पर पूरा किया जा सके. वहीं रिज के धंसते हिस्से को बचाने के लिए आईआईटी रूड़की को रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं. धंसते रिज की मरम्मत की जानी है. इसके लिए आईआईटी रुड़की को 11 लाख रुपए की एंडवास पेमेट करने को मंजूरी दी गई है. रिपोर्ट आने के बाद ही रिज को बचाने की कवायद शुरू होगी.ये भी पढ़ें: हिमाचल पुलिस के जवान ने महिला पुलिस कर्मी के इनरवियर पर लिखे अश्लील शब्द, FIR

SP दिवाकर इन एक्शन: डेढ़ साल में नशे का एक भी केस नहीं पकड़ा, SHO सस्पेंड

टीचर ने छात्रा से लैब में की छेड़छाड़, फेसबुक ID मांगी,‘तुम्हें पसंद करता हूं‘

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 11:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर