लाइव टीवी

देवभूमि हिमाचल भी महिलाओं के लिए नहीं सुरक्षित, हर 24 घंटे के बाद महिला से रेप

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 9, 2019, 3:26 PM IST
देवभूमि हिमाचल भी महिलाओं के लिए नहीं सुरक्षित, हर 24 घंटे के बाद महिला से रेप
हिमाचल में महिलाओं के खिलाफ अपराध बढ़ हैं. (FILE PHOTO)

Crime against Women in Himachal: हिमाचल में भाजपा सरकार के शुरूआती 22 महीनों में अपहरण के 820 मामले सामने आए हैं. जबकि कांग्रेस सरकार के अंतिम 24 महीनों में इनकी संख्या 631 थी.

  • Share this:
शिमला. देश में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों (Crime Against Women) पर जनता में जबरदस्त रोष है. लोग गुस्से में है. और हर जगह सिस्टम निशाने पर है. महिलाओं की सुरक्षा (Women Safety) पर चिंता है और कई सवाल हैं. देवभूमि हिमाचल में महिलाएं सुरक्षित मानी जाती हैं, लेकिन जो आंकड़ा News-18 ने पुलिस से जुटाया है, उसे देखकर लगता है कि हालात विपरित हैं और महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं.

डराने वाले हैं आंकड़े
जानकारी के अनुसार, साल 2015 में रेप (Rape) के 244 मामले सामने आए. इसके बाद 2016 में 253 केस, साल 2017 में 248, साल 2018 में आंकड़ा बड़ा और यह 345 पहुंच गया. साल 2019 के 10 महीनों में ही दुष्कर्म (Rape) की 271 वारदात अलग-अलग थानों में दर्ज हो गई हैं. यानी दो सालो में हर 24 घंटे बाद एक महिला से दुष्कर्म का मामला सामने आया है.

भाजपा सरकार में महिला अपराध

हिमाचल में भाजपा सरकार के शुरूआती 22 महीनों में अपहरण के 820 मामले सामने आए हैं. जबकि कांग्रेस सरकार के अंतिम 24 महीनों में इनकी संख्या 631 थी. साल 2018 में यौन शोषण के मामले 515 और 2019 में अब तक 380 मामले दर्ज हो चुके हैं. 2019 में ही 2 मामले दहेज के सामने आए हैं.

सरकारी किसी की भी, जवाब वहीं
महिला सुरक्षा के सवालों पर सत्ता के पास हर बार वही बयान होता है.इसके अलावा, दल कोई भी हो, दावा सभी करते हैं. लेकिन हाल वही है, ढाक के 3 पात. महिलाओं के खिलाफ होने वाले सभी तरह के अपराधों को जोड़ कर देखें तो तस्वीर डराने वाली है. वर्ष 2015 में महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों को देखें तो इनती कुल संख्या 1314 थी, जो साल 2018 में बढ़कर 1617 तक पहुंच गए. पिछले 5 साल का औसत देखें तो हिमाचल में सालाना 1332 मामले केवल महिलाओं से जुड़े अपराधों के हैं. ऐसे में क्या यह कहा जा सकता है कि देवभूमि में महिलाएं सुरक्षित हैं?गुड़िया हेल्पलाइन और शक्ति ऐप
बहुत हुआ महिलाओं पर अत्याचार, अबकी बार भाजपा सरकार. इसी नारे के साथ देवभूमि में भाजपा सरकार स्थापित हुई. इस 27 दिसंबर को 2 साल के कार्यकाल का जश्न भी मनाया जाएगा. भाजपा ने विधानसभा चुनाव में गुड़िया केस का का सहारा लिया था. इसके लिए गुड़िया हेल्पलाइन और शक्ति एप्प का लाल बटन शुरू किया गया. अब भाजपा सरकार के शुरूआती 2 साल के कार्यकाल में ही महिला अपराध के पिछले सभी रिकार्ड ध्वस्त हो गए हैं.

ये भी पढ़ें: शिमला की संजौली हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के घर में घुसा तेंदुआ, लोगों में दहशत

कुल्लू पुलिस ने चिटटा तस्करी में 2 नाइजेरियन दिल्ली से किए गिरफ्तार

बीएसएल कॉलोनी पुलिस ने 402 ग्राम चरस के साथ दो युवकों को किया गिरफ्तार

हमीरपुर: मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला के साथ दुष्कर्म, गर्भवती हुई पीड़िता

मंडी: बदला जा सकता है एयरपोर्ट का स्थान, सीएम जयराम ठाकुर ने दिए संकेत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2019, 10:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर