लाइव टीवी

फर्जी डिग्रियां बेचने का मामला: ABVP के बाद अब SFI का हल्ला बोल, नियामक आयोग का घेराव
Shimla News in Hindi

Ranbir Singh | News18 Himachal Pradesh
Updated: February 26, 2020, 2:47 PM IST
फर्जी डिग्रियां बेचने का मामला: ABVP के बाद अब SFI का हल्ला बोल, नियामक आयोग का घेराव
शिमला में एसएफआई ने आयोग के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन किया.

Fake Degree Selling Scam in Himachal: इससे पहले, मंगलवार को नियामक आयोग पर एबीवीपी ने बवाल किया था. आयोग का बोर्ड तोड़ दिया गया था. इस पर एबीवीपी के 20 वर्करों पर केस दर्ज किया गया है.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश के शिमला (Shimla) में एपीजी यूनिवर्सिटी (APG University) और सोलन के मानव भारती (Manav Bharti University) निजी विश्वविद्यालयों के फर्जीवाड़े और डिग्रियां बेचने के मामले पर छात्र संगठनों में जबरदस्त रोष है. मंगलवार को ABVP ने निजी शिक्षण संस्थान विनियामक आयोग के बाहर हल्ला बोला था और बुधवार को SFI ने प्रदर्शन किया.

पुलिस बल की तैनाती
SFI कार्यकर्ताओं ने सरकार और आयोग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस बीच एसएफआई कार्यकर्ताओं ने आयोग के भीतर घुसने का प्रयास किया, लेकिन वहां पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोक दिया. छात्रों के गुस्से को देखते हुए आज काफी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे. एसएफआई आयोग के चैयरमेन से मिलना चाह रहे थे, लेकिन चैयरमेन कार्यालय में नहीं थे तो ऐसे में पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोक दिया. आयोग की सचिव भी दफ्तर में नहीं थी तो एसएफआई ने आयोग के सदस्य को ज्ञापन सौंपा.

कमीशन की कार्यप्रणाली सही नहीं



SFI ने आरोप लगाया कि रेगुलेटरी कमीशन की कार्यप्रणाली सही नहीं है. निजी विश्वविद्यालयों की इन्सपेक्शन नहीं की जाती है, जिसके कारण छात्रों से लूट की जाती है और फर्जीवाड़े को अंजाम दिया जाता है. SFI के राज्य सचिव अमित ठाकुर ने कहा कि हैरानी इस बात की है कि यूजीसी को डिग्रियां बेचने की जानकारी है, लेकिन यहां नियामक आयोग के पास एक कागज तक नहीं है. अमित ठाकुर ने ऐलान किया कि इस मामले में उचित कार्रवाई नहीं हुई तो शिक्षा के आला अधिकारियों के साथ साथ शिक्षा मंत्री के कार्यालय का भी घेराव किया जाएगा.

नियामक आयोग के बाहर धरना देते वर्कर.
नियामक आयोग के बाहर धरना देते वर्कर.


मंगलवार को एबीवीपी ने काटा था बवाल
इससे पहले, मंगलवार को नियामक आयोग पर एबीवीपी ने बवाल किया था. आयोग का बोर्ड तोड़ दिया गया था. इस पर एबीवीपी के 20 वर्करों पर केस दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें: PHOTOS: BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा के बेटे गिरीश ने प्राची संग लिए सात फेरे

‘सस्ती शराब’ पर बैकफुट पर सरकार, नई आबकारी नीति में हो सकता है संशोधन

शिमला में कुत्तों और बंदरों का आतंक, DDU अस्पताल में एक साल में आए 3588 मामले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2020, 2:47 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर