लाइव टीवी

इसी माह रिटायर होंगे 5 IAS-HAS, हिमाचल सरकार को खलेगी अधिकारियों की कमी!

Pradeep Thakur | News18 Himachal Pradesh
Updated: December 11, 2019, 12:21 PM IST
इसी माह रिटायर होंगे 5 IAS-HAS, हिमाचल सरकार को खलेगी अधिकारियों की कमी!
हिमाचल प्रदेश सचिवालय. (FILE PHOTO)

IAS_HAS Retirement in Himachal: हिमाचल में पहले ही आईएएस अधिकारियों का टोटा है. हिमाचल में इस वक्त आईएएस अधिकारियों की कैडर स्ट्रेंथ 146 है. जबकि प्रदेश को जरूरत 155 आईएएस अधिकारियों की है. इनमें करीब 30 अधिकारी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर भी हैं.

  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) सरकार को आईएएस (IAS) अधिकारियों की कमी खलने वाली है. क्योंकि, इसी महीने 31 दिसंबर को पांच आईएएस और एचएएस (IAS-HAS) अधिकारी एक साथ रिटायर हो रहे हैं. ऐसे में दूसरे आईएएस अधिकारियों का बोझ बढ़ सकता है.

दरसअल, हिमाचल (Himachal Pradesh) में पहले से ही आईएएस अधिकारियों की कमी चल रही है. जबकि दूसरी ओर इस महीने पांच आईएएस अधिकारी 31 दिसंबर को एक ही दिन रिटायर हो रहे हैं. इनके अलावा, दो एचएएस अधिकारी भी रिटायर होंगे. इनमें दो आईएएस अधिकारी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं, जबकि तीन प्रदेश सरकार का ही काम देख रहे हैं. ऐसे में अब बाकी अधिकारियों पर बोझ बढ़ने जा रहा है. हालांकि, इस विकट स्थिति से निपटने के लिए सरकार केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर गए अधिकारियों को वापस भी बुला सकती है.

ये अधिकारी होंगे रिटायर
हिमाचल में आईएएस अधिकारियों के बॉस यानी मुख्य सचिव और 1985 बैच के आईएएस अधिकारी डॉ. श्रीकांत बाल्दी इसी महीने रिटायर हो रहे हैं. इनके स्थान पर अनिल खाची का मुख्य सचिव बनना तय माना जा रहा है. वैसे डॉ. बाल्दी को सेवा विस्तार देने की चर्चाएं भी चल रहीं थी. फिलहाल, वह थम गई हैं, क्योंकि, बाल्दी का नाम रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (RERA) के चैयरमेन के लिए फाइनल हो गया है. वहीं, केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर चल रहीं 1983 बैच की आईएएस अधिकारी उपमा चौधरी भी रिटायर हो रही हैं. वह इस समय केंद्र सरकार में सचिव युवा सेवाएं हैं. इसी बैच के एआर सिहाग भी रिटायर होंगे, जो केंद्र में सचिव भारी उद्योग तैनात हैं.

इन्हें भी मिलेगी सेवानिवृत्ति
प्रदेश सरकार में विशेष सचिव प्रशिक्षण एवं फोरन असाइमेंट 2008 बैच के संजीव भटनागर और 2010 के बैच के आईएएस अधिकारी देवा सिंह नेगी जो सेटलमेंट अफसर एवं निदेशक भू अभिलेख तैनात हैं, वो भी 31 दिसंबर को रिटायर होंगे। इनके अतिरिक्त 2005 बैच के एचएएस अधिकारी ज्ञान चंद नेगी और 2012 बैच के सुरेंद्र मोहन साहनी भी सेवानिवृत्त हो रहे हैं.

हिमाचल प्रदेश सचिवालय. (FILE PHOTO)
हिमाचल प्रदेश सचिवालय. (FILE PHOTO)
हिमाचल में अधिकारियों का टोटा
दरअसल, हिमाचल में पहले ही आईएएस अधिकारियों का टोटा है. हिमाचल में इस वक्त आईएएस अधिकारियों की कैडर स्ट्रेंथ 146 है. जबकि प्रदेश को जरूरत 155 आईएएस अधिकारियों की है. इनमें करीब 30 अधिकारी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर भी हैं. प्रदेश सरकार ने केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय के समक्ष 2017 में आईएएस कैडर स्ट्रेंथ बढ़ाने का मामला भी उठाया था, लेकिन अभी तक मामला ठंडे बस्ते में बढ़ा हैं. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय हिमाचल को लेकर जल्द कोई सकारात्मक फैसला करेगा, ताकि प्रदेश में आईएएस अधिकारियों पर काम का बोझ भी घटे और परफार्मेस बढ़े.

ये भी पढ़ें: हैदराबाद एनकाउंटर पर खली के सवाल, देश में लाखों रेप हुए, कितनों को गोली मारी?

हिमाचल में मिड-डे मील के दौरान जातीय भेदभाव का आरोप, VIDEO वायरल, FIR

दुबई में कांगड़ा के युवक की हत्या, एक माह बाद घर पहुंचाया शव, माहौल गमगीन

10 दिन से लापता शुभम: ‘मेरे बेटे को वापस लाओ’, दोस्त का होगा Polygraph टेस्ट!

शीतकालीन सत्र: प्याज की माला पहनकर सदन में कांग्रेस का प्रदर्शन, वॉकआउट किया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शिमला से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 11:37 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर