शिमला में नगालैंड के पूर्व राज्यपाल और CBI निदेशक अश्वनी कुमार ने की आत्महत्या

सीबीआई के पूर्व निदेशक अश्वनी कुमार. (FILE PHOTO)
सीबीआई के पूर्व निदेशक अश्वनी कुमार. (FILE PHOTO)

Ashwani Kumar Suicide Case in Shimla: छोटा शिमला के ब्रोकहॉस्ट में एक घर में यह घटना सामने आई है. सूत्रों का कहना है कि पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2020, 9:22 AM IST
  • Share this:
शिमला. हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में नगालैंड के पूर्व राज्यपाल और पूर्व सीबीआई निदेशक अश्वनी कुमार (Aswani Kumar) ने सुसाइड (Suicide) कर लिया है. बताया जा रहा है कि शिमला में एक घर में उन्होंने सुसाइड किया है.

सूचना के बाद हिमाचल के डीजीपी संजय कुंडू मौके पर पहुंचे हैं. इसके अलावा, शिमला के एसपी भी मौके पर पहुंचे हैं. शिमला के एसपी मोहित चावला (Shimla SP) ने मामले की पुष्टि की है.

शिमला में अश्वनी शर्मा ने सुसाइड किया है.




छोटा शिमला की घटना
जानकारी के अनुसार, बुधवार देर शाम की यह घटना है. छोटा शिमला के ब्रोकहॉस्ट में एक घर में यह घटना पेश आई है. सूत्रों का कहना है कि पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला है. बताया यह भी जा रहा है कि कुछ समय से वह डिप्रेशन में चल रहे थे.



कौन थे अश्वनी कुमार
अश्वनी कुमार हिमाचल के डीजीपी भी रह चुके हैं. जुलाई 2006 से 2008 तक वह डीजीपी हिमाचल थे. इसके अलावा, अगस्त 2008 से नवंबर 2010 तक वह सीबीआई के निदेशक भी रहे.  70 वर्षीय अश्वनी कुमार का जन्म हिमाचल प्रदेश के सिरमौर के नाहन में हुआ था. वह आईपीएस अधिकारी थे और सीबीआई व एसपीजी में विभिन्न पदों पर रहे. अश्वनी कुमार सीबीआई के पहले ऐसे प्रमुख थे, जिन्हें बाद में राज्यपाल बनाया गया. मार्च 2013 में उन्हें नगालैंड का राज्यपाल नियुक्त किया गया था. हालांकि, वर्ष 2014 में उन्होंने अपने पद से त्यागपत्र दे दिया था. इसके बाद, वह शिमला में एक निजी विश्वविद्यालय के वीसी भी रहे थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज